अखण्ड द्वादशी  


अन्य संबंधित लिंक

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. कृत्यकल्पतरु (व्रतकाण्ड 344—347) एवं हेमाद्रि (व्रतखण्ड, 1, 1193—1105
  2. हेमाद्रि व्रतखण्ड(1, 1117—1124), वामन पुराण (17|11–25); अग्नि0 (अध्याय 190); गरुड़ पुराण (1|118
"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=अखण्ड_द्वादशी&oldid=188192" से लिया गया