अतिवती नदी  

  • बौद्ध साहित्य में उल्लिखित नदी जो कसिया या प्राचीन कुशीनगर के निकट बहती थी।
  • बुद्ध का दाहसंस्कार इसी नदी के तट पर हुआ था।
  • यह गंडक की सहायक नदी है जो अब प्राय: सूखी रहती है।
  • बौद्ध साहित्य में इस नदी को हरिण्या भी कहा गया है।
  • संभव है अतितवती और अचिरवती में केवल नाम-भेद हो।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=अतिवती_नदी&oldid=171593" से लिया गया