अभिनयदर्पण  

आर्चाय नन्दिकेश्वर की नाट्यशास्त्रीय संस्कृत-कृति है। अभिनय-सम्बन्धी यह मौलिक कृति आर्चाय भरत के 'नाट्यशास्त्र' के बाद की है, परंतु अत्यंत प्राचीन है।

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=अभिनयदर्पण&oldid=267974" से लिया गया