अव्ययीभाव समास  

अव्ययीभाव समास (अंग्रेज़ी: Adverbial Compound) अव्यय और संज्ञा के योग से बनता है और इसका क्रिया विशेष के रूप में प्रयोग किया जाता है। इसमें प्रथम पद (पूर्व पद) प्रधान होता है। इस समस्त पद का रूप किसी भी लिंग, वचन आदि के कारण नहीं बदलता है। जैसे -

  1. प्रतिदिन - प्रत्येक दिन
  2. आजन्म - जन्म से लेकर
  3. भरपेट - पेट भरकर
  4. निडर - डर के बिना
  5. प्रतिवर्ष - हर वर्ष
  6. बेमतलब - मतलब के बिना
  7. अनुरूप - रूप के योग्य
पहचान

अव्ययीभाव समास में समस्त पद 'अव्यय' बन जाता है, अर्थात् समास लगाने के बाद उसका रूप कभी नहीं बदलता है। इसके साथ विभक्ति चिह्न भी नहीं लगता।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=अव्ययीभाव_समास&oldid=612734" से लिया गया