आदिगुरु गोरखनाथ की धूनी  

आदिगुरु गोरखनाथ की धूनी चम्पावत से लगभग 33 कि.मी. की दूरी पर स्थित है। चनामक स्थान से इस स्थल हेतु लगभग 1.5 कि.मी. की दूरी पैदल तय करने के उपरांत इस स्थान पर पहुंचा जा सकता है। जनश्रुति है कि यह धूनी सतयुग से लगातार प्रज्वलित है। यह स्थल नैसर्गिक सौंदर्यता से परिपूर्ण है।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=आदिगुरु_गोरखनाथ_की_धूनी&oldid=294447" से लिया गया