आरालिक  

आरालिक महाभारत काल में भोजन तैयार करने वाले रसोईये को कहा जाता था।

  • महाभारत आश्रमवासिक पर्व में आरालिक का उल्लेख मिलता है।
  • 'अरा' नामक शस्त्र से काटकर बनाये जाने के कारण साग-भाजी आदि को ‘अरालू’ कहते हैं। उसको सुन्दर रीति से तैयार करने वाले रसोईये 'आरालिक' कहलाते हैं।[1]


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. महाभारत आश्रमवासिक पर्व अध्याय 1 श्लोक 19-27

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=आरालिक&oldid=606449" से लिया गया