इन्द्रनारायण द्विवेदी  

इन्द्रनारायण द्विवेदी बीसवीं सदी के महत्त्वपूर्ण स्वतंत्रता सेनानी थे।

  • इनका कार्यक्षेत्र संयुक्त प्रांत रहा।
  • ये आरम्भ से ही राजनीतिक कार्यकलापों से जुड़े रहे तथा काँग्रेस से जुड़ गये।
  • ये मदन मोहन मालवीय के शिष्य थे तथा इन पर मालवीय का बड़ा प्रभाव था।
  • ये कृषक आन्दोलन से भी जुड़े रहे।
  • इन्होंने फरवरी, 1918 ई. में सयुंक्त प्रांत किसान सभा की स्थापना की, जिसका गठन इलाहाबाद होमरूल लीग के धन से किया गया था।
  • वस्तुत: इस संगठन की स्थापना 1919 ई. में होने वाले चुनावों को दृष्टि में रखते हुए की गयी थी।
  • इसके पश्चात्त ये व्यवस्थापिका के सदस्य भी बने तथा प्रांतीय राजनीति से सक्रिय रूप से जुड़े रहे।[1]
पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. नागोरी, डॉ. एस.एल. “खण्ड 3”, स्वतंत्रता सेनानी कोश (गाँधीयुगीन), 2011 (हिन्दी), भारतडिस्कवरी पुस्तकालय: गीतांजलि प्रकाशन, जयपुर, पृष्ठ सं 77।

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=इन्द्रनारायण_द्विवेदी&oldid=287436" से लिया गया