ऋषिकुल्या  

ऋषिकुल्या भारत की एक नदी, जिसका उल्लेख पुराणों आदि में हुआ है-

'ऋषिकुल्यां समासाद्य वासिष्ठं चैव भारत'; 'ऋषिकुल्यां समासाद्य नर: स्नात्वा विकल्मष:।'[1]
'कुमारी मृषिकुल्यां च मारिषां च सरस्वतीम्।'
'महानदी वेदस्मृतिऋषिकुल्या त्रिसामाकौशिकी।[4]
'ऋषिकुल्या कुमाराद्या: शुक्तिमत्पादसंभवा:।'


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  • ऐतिहासिक स्थानावली | पृष्ठ संख्या= 107| विजयेन्द्र कुमार माथुर | वैज्ञानिक तथा तकनीकी शब्दावली आयोग | मानव संसाधन विकास मंत्रालय, भारत सरकार

संबंधित लेख

"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=ऋषिकुल्या&oldid=628449" से लिया गया