कात्यायनस्मृति  

  • भारत में धार्मिक ग्रन्थों का सर्वव्यापी प्रचार रहा है। यह हिन्दू धर्म ग्रंथों में उल्लिखित हिन्दू धर्म का एक ग्रन्थ है।
  • कात्यायनस्मृति ग्रन्थ याज्ञवल्क्य, विज्ञानेश्वर, हेमाद्रि, माधव द्वारा वर्णित हैं।[1]
  • कात्यायनस्मृति ग्रन्थ[2] में कर्मप्रदीप एवं गोभिलस्मृति कहा गया है।


अचारशास्त्र, एकदण्डिसन्न्यास विधि, सूरा, आयत (क़ुरआन), आगम प्रामाण्य, दशम ग्रंथ, दुर्गाभक्तितरंगिणी (विद्यापति), कीर्ति पताका, गयापत्तालक, शैवसर्वस्वसार, वर्षकृत्य, जपुजी, जपसाहेब, कुल्लजम साहेब, कुलचूडामणितन्त्र, प्रदीप (ग्रंथ), गुरु ग्रंथ साहिब, मिताक्षरा, विवाहकर्म ग्रन्थ, बृहद्देवता, धर्मशास्त्र, शांतिकल्पप्रदीप, ब्रह्मर्षि, शांतिकल्पदीपिका, शांतिकमलाकार, शातातपस्मृति, शाण्डिल्यस्मृति, शाण्डिल्यधर्मशास्त्र, शाण्डिल्यगृह्य, शांखायनगृह्यसंस्कार, विष्णुधर्ममीमांसा, शांखायनगृह्यसंस्कारपद्धति, विष्णुतीर्थीयव्याख्यान, विष्णुतत्त्वविनिर्णय, विष्णुतत्त्वप्रकाश, शाकलस्मृति, विषघटिकाजननशान्ति, विश्वेश्वरीस्मृति, शाकटायनस्मृति, विश्वेश्वरीपद्धति, विश्वेश्वरपद्धति, शरदक्षस्मृति, शतानन्दसंग्रह, विश्वेश्वरनिबन्ध, विश्वामित्रसंहिता, विश्वामित्रकल्प, शतश्लोकी, शतचण्डीसहस्त्रचण्डीप्रयोग, शतचण्डीविधानपद्धति, शतचण्डीप्रयोग, शतचण्डीपद्धति, शंखधरसमुच्चय, शंखचक्रधारणवाद, व्रात्यप्रायश्चित्तनिर्णय, शंकुप्रतिष्ठा, शंकरगीता, शकुनार्णव, व्रात्यस्तोमपद्धति, व्रतोद्यापनकौमुदी, व्रतोपवाससंग्रह, व्रताचार, व्रतार्क, व्रतसार, व्रतसागर, व्रतसमुच्चय, व्रतसंग्रह, व्रतविवेकभास्कर, शाम्बव्यगृह्यसूत्र, शांतिपुस्तक, शांतिनिर्णय, शांतिचरित्र, वृषभोत्सर्गपरिशिष्ट, वृषभोत्सर्ग, वृष्भदान, वृद्धिश्राद्ध, वृक्षाधापन, वीरशैवधर्मनिर्णय, विश्वामित्रकल्पतर, शांतिकल्याणी, शांखायनगृह्यपरिशिष्ट, शांखायनगृह्यनिर्णय, शांखायनगृह्यकारिका, शय्यादान, शत्रुमित्रोपशांति, शत्रुध्नी, शंकरभट्टी, व्रतोद्यापन, व्रतसंपात, शारदातिलक, विष्णुप्रतिष्ठापद्धति, विष्णुपूजापद्धति, विश्वामित्रकल्पतरु, व्यवहारसार (निर्णय सिन्धु), व्यवहारसार (मयाराम मिश्र), व्यवहारसर्वस्व, व्यवहारसमुच्चय (रघुनाथ), व्यवहारसमुच्चय (हरिगण), व्यवहारशिरोमणि, व्यवहाररत्नावली, व्यवहारमाला, व्यवहाररत्नाकर, व्यवहाररत्न, व्यवहारमाधव, व्यवहारमातृका, व्यवहारमयूख, व्यवहारप्रदीपिका, व्यवहारप्रदीप (पद्यनाभ मिश्र), व्यवहारप्रदीप (कृष्ण), व्यवहारप्रदीप (कल्याणवर्मा), व्यवहारप्रकाश (मित्रमिश्र), व्यवहारप्रकाश (शरभोजी), व्यवहारप्रकाश (हरिराम), वर्ज्याहारविवेक, व्यवहारपदन्यास, वर्णाश्रमधर्म, वर्णसारमणि, वैर्णशासन, वर्णकाचार, व्यवहारपरिशिष्ट, व्यवहारपरिभाषा, वपननिर्णय, व्यवहारनिर्णय (श्रीपति), व्यवहारनिर्णय (वरदराज), वटेश्वरसिद्धांत, वत्सस्मृति, व्यवहारनिर्णय (मयाराममिश्र गौड़), वचनसारसंग्रह, वंगिपुरेश्वरकारिका, लोहितस्मृति, लोकसागर, व्यवहारनिर्णय (शूद्रकमलाकर), लोकपालाष्टदान, लोकप्रकाश, लेखमुक्तामणि, व्यवहारदीपिका, लेखपद्धति, व्यवहारदीधिति, व्यवहारदशश्लोकी, व्यवहारदर्पण (रामकृष्ण भट्ट), व्यवहारदर्पण (अनन्तदेव याज्ञिक), व्यवहारतिलफ, व्यवहारतत्त्व (रघुनन्दन), व्यवहारतत्त्व (नीलकण्ठ), अवेस्ता, आचारांग, धर्मशास्त्रीय ग्रंथ, कुण्डोदद्योतदर्शन (अनंतदेव), क्रियानिबन्ध, कुरुक्षेत्रप्रदीप (वनमालिमिश्र), गृह्मपरिशिष्ट (वैकुण्ठनाथाचार्य), गृह्मपरिशिष्ट (अनंत भट्ट), गृह्मपद्धति, कुरुक्षेत्रानुक्रमणिका, कुरुक्षेत्ररत्नाकर, कुरुक्षेत्रतीर्थनिर्णय, कुण्डोदद्योतदर्शन (शंकरभट्ट), क्रियाकाण्डशेखर, क्रियाकौमुदी (मथुरानाथ), क्रियाकौमुदी (गोविन्दानन्द), कुण्डोदद्योत, विश्वादर्श, विश्वरूपसमुच्चय, विश्वरूपनिबन्ध, विश्वम्भरशास्त्र, विश्वप्रकाशिकापद्धति, विवेकार्णव, विश्वदेवदीक्षितीय, विश्वदीप, विवेककौमुदी, विवेकदीपक, विवेकमंजरी, विवेकसारवर्णन, विविधविद्याविचारचतुरा, विवाहाग्निनष्टिप्रायश्चित, विवाह्याकन्यास्वरूपनिर्णय, विवाहादिर्कानुष्ठानपद्धति, विवाहसौख्य, विशुद्विदर्पण, विवाहपद्धतिव्याख्या, विवाहप्रकरण, विवाहरत्न, विवाहरत्नसंक्षेप, विवाहवृन्दावन, विवाहपद्धति (नारायण भट्ट), विवाहपटलस्तवक, विवाहपद्धति (गौरीशंकर), विवाहपद्धति (चतुर्भुज), विवाहपद्धति (जगन्नाथ), विवाहपद्धति (नरहरि), विवाहपद्धति (रामचन्द्र), विवाहपद्धति (गणेश्वरात्मज रामदत्त राजपण्डित), विवाहपद्धति (अनूपविलास), विवाहपटल (हरिदेवसूरि), विवाहपटल (सारंगपाणि), विवाहनिरूपण (नन्दभट्ट), विवाहनिरूपण (वैद्यनाथ), विवाहद्विरागमनपद्धति, मुहूर्तमंजरी (यदुनंदन पण्डित), मुहूर्तमंजरी (हरिनारायण), मुहूर्तभैरव (गंगाधर), मुहूर्तभैरव (दीनदयालु पाठक), मुहूर्तभूषणटीका, मुहूर्तभूषण, मुहूर्तपरीक्षा, मुहूर्तदीपिका (बादरायण), मुहूर्तदीपिका (कालविधान), मुहूर्तदीपक (रामसेवक), मुहूर्तदीपक (महादेव), मुहूर्तदीपक (नागदेव), मुहूर्तदीप (शिवदैवज्ञ), मुहूर्तदीप (जयानंद), मुहूर्तदर्पण (विद्यामाधव), मुहूर्तदर्पण (लालमणि), मुहूर्तदर्पण (मार्तण्डवल्लभा), मुहूर्ततत्त्व, मुहूर्तचिंतामणि (वेंकटेश), मुहूर्तचिंतामणि (रामदैवज्ञ), मुक्तिक्षेत्रप्रकाश, मीमांसापल्लव, मिथिलेशाह्निक, विवादार्णवभञ्जन, विवाहचतुर्थीकर्म, विवादार्थसंग्रह, विवादसार, विवादसिन्धु, विवादव्यवहार, विवादवारिधि, विवादभंगार्णव, विवादरत्नाकर, विवादनिर्णय (श्रीकर), विवादनिर्णय (गोपाल), विलक्षणजन्मप्रकाशिका, विवादताण्डव, विवादचन्द्र, विवादचन्द्रिका (रुद्रधर महामहोपाध्याय), विवादचन्द्रिका (अनंतराम), विवादकौमुदी, विरूद्धविधिविध्वंस, विवादचितामणि, विवस्वतस्मृति, विलाससंग्रहकारिका, विभूतिधारण, विभागसार, विभागतत्त्व, विभक्ताविभक्तनिर्णय, विभागनिर्णय, विबुधकष्ठभूषण, क़ुरआन, विनायकपूजा, विधिरत्न (गंगाधर), विधिरत्न (त्रिकाण्डमण्डन), विधानरत्न, विधानरहस्य, विधानमाला (नृसिंहभट्ट), विधानमाला (विश्वकर्मा), विधानमाला (लल्ल), विधानपारिजात, विधानगुम्फ, विद्याकरणपद्धति, विद्याधरीविलास, विधवाविवाहखण्डन, विधवाधर्म, विधवाविवाहविचार, विजयविलास, विज्ञानमार्तण्ड, विज्ञानललित, विट्ठलीय, वास्तुशिरोमणि, विजयदशमीनिर्णय, विचारनिर्णय, वास्तुशांतिप्रयोग (दिनकर), वास्तुशांतिप्रयोग (शाकलोक्त), वास्तुरत्नावलि, वास्तुयागतत्त्व, वास्तुप्रदीप, वास्तुशांति, वास्तुपूजनपद्धति (परमाचार्य), वास्तुपूजनपद्धति (याज्ञिकदेव), वास्तुतत्त्व, वास्तुचन्द्रिका (करुणाशंकर), वास्तुचन्द्रिका (कृपाराम), रुद्रपद्धति (रेणुक), रुद्रपद्धति (परशुराम), रुद्रपद्धति (भास्करदीक्षित), रुद्रपद्धति (नारायणभट्ट), रुद्रपद्धति (काशीदीक्षित), रुद्रपद्धति (आपदेव), रुद्रकलशस्थापनविधि, रुद्रकल्पद्रुम, रुद्रकल्प, रुद्रजयसिद्धांतशिरोमणि, रुद्रचिंतामणि, रासयात्राविवेक, रामसिंहप्रकाश, रामार्चनरत्नाकर, रामार्चनपद्धति, रामार्चनदीपिका, रामार्चनचन्द्रिका (कुलमणि शुक्ल), रामार्चनचन्द्रिका (आनन्दवन यति), रामार्चनचन्द्रिका (अच्युताश्रम), रामपूजापद्धति, रामनिबन्ध, रामपूजाविधि, रामनित्यार्चनपद्धति, रामनाथपद्धति, रामनवमीनिर्णय (विट्ठलदीक्षित), रामनवमीनिर्णय (गोपालदेशिक), रामकल्पद्रुम, रामदेवप्रसाद, राज्याभिषेकपद्धति (कमलाकर), राज्याभिषेकपद्धति (रघुनाथ सम्राट), राज्याभिषेकपद्धति (शिव), राज्याभिषेकपद्धति (अनंतदेव), राजाभिषेक, राजवल्लभ, राजनीतिशास्त्र, राजमार्तण्ड, राजलासक, राजभूषणी, राजनीतिप्रकाश (मित्रमिश्र), राजनीतिप्रकाश (रामचन्द्र अल्लडीवार), रत्नार्णव, रत्नावलि, राजनीति (देवीदास), राजनीतिकामधेनु, राजधर्मसारसंग्रह, राजनीति (वररूचि), राजनीति (हरिसेन), राजनीति (भोज), राजकौस्तुभ, रसामृतसिन्धु, रविसंक्रांतिनिर्णय, रथसप्तमीकालनिर्णय, रत्नाकर (गोपाल), रत्नाकर (रामप्रसाद), रत्नकरण्डिका, रत्नमाला (शतानन्द), रत्नमाला (गोविन्दार्णव), रत्नदीपविश्वप्रकाश, रजतदानप्रयोग, रंगनाथदेशिकांह्निक, युद्धरत्नावली, युद्धयात्रा, युद्धजयोत्सव, युद्धजयार्णव, युद्धजयप्रकाश, युद्धकौशल, युद्धचिंतामणि, प्रतिष्ठासंग्रह, प्रतिष्ठाविवेक (शूलपाणि), मुहूर्तचूणामणि, प्रतिष्ठाविवेक (उमापति), मुहूर्तचिंतामणि, मुहूर्तचन्द्रकला, प्रतिष्ठारत्न, मुहूर्तकल्पाकर, मुहूर्तमंजूषा, मुहूर्तपदवि, मुहूर्तनिर्णय, मुहूर्तचिंतामणिसारणी, मुहूर्तचिंतामणिसार, प्रतिष्ठार्कपद्धति, मुहूर्तचक्रावलि, प्रतिष्ठामयूख, प्रतिष्ठाप्रयोग, प्रतिष्ठाप्रकाश, प्रतिष्ठापद्धति (शंकरभट्ट), प्रतिष्ठापद्धति (राधाकृष्ण), प्रतिष्ठापद्धति (महेश्वर भट्ट हर्षे), मुहूर्तकल्पद्रुम (विट्ठलदीक्षित), प्रतिष्ठापद्धति (नीलकण्ठ), प्रतिष्ठापद्धति (त्रिविक्रम भट्ट), मुहूर्तकल्पद्रुम (केशव), मुहूर्तकल्पद्रुम (महादेव), प्रतिष्ठापद्धति (अनंतभट्ट), मुहूर्तकलींद्र, प्रतिष्ठानिर्णय, प्रतिष्ठादीधिति, मुमूर्षुमृतकृत्यादिपद्धति, प्रतिष्ठादर्पण, मुनिमतमणिमाला, मुक्तिचिंतामणि, मिताक्षरासार, मासिकश्राद्धमानोपन्यास, मासिकश्राद्धप्रयोग, मासिकश्राद्धपद्धति, मुद्राविवरण, मुहूर्तकण्ठाभरण, मासिकश्राद्धनिर्णय, मासादिनिर्णय, मासमीमांसा, मासनिर्णय, मासतत्त्वविवेचन, प्रतिष्ठातत्त्व, प्रतिष्ठाचिंतामणि, मालवदर्शन, प्रतिष्ठाकौस्तुभ, प्रतिष्ठाकौमुदी, प्रतिष्ठाकल्पकता, प्रतिमासंग्रह, मार्तण्डार्चनचंद्रिका, मार्तण्डदीपिका, मासदर्पण, प्रतिमाप्रतिष्ठा, मासकृत्य, प्रतिमादान, प्रतिग्रहप्रायश्चित्तप्रकार, पुनरुपनयनप्रयोग, पुनरुपनयन, पुन:संदान, पुलहस्मृति, पुरुषोसमक्षेत्रतत्त्व, प्रणवार्चनचन्द्रिका, पुरुषार्थसुधानिधि, पुरुषार्थप्रबोधनी, पुराणसारसंग्रह, प्रणवोपासनाविधि, पुरुषार्थरत्नाकर, प्रणवपरिशिष्ट, प्रणवदर्पण (श्रीनिवासाचार्य), प्रणवदर्पण (वेंकटाचार्य), पुरुषार्थप्रबोध, प्रणवकल्प (स्कन्दपुराण), पुरुषार्थचिंतामणि, पुत्रीकरणमीमांसा, पुराणसार (राजकुमार), पुराणसार (आह्निकतत्त्व), प्रणवकल्प (आनन्दतीर्थ), प्रणवकल्प (शौनक), पुराणसर्वस्व (हलायुध), प्रजापालन, प्रजापद्धति, प्रक्रियाञ्जनटीका, पुराणसर्वस्व (पुरुषोत्तम), पुराणसर्वस्व (श्रीसत्य), पुरस्क्रियाचर्या, पुरश्चरणदीपिका (रामचंद्र), पुरश्चरणदीपिका (चंद्रशेखर), पुरश्चरणदीपिका (बिबुधेंद्राश्रम), युक्तिकल्पतरू, यात्राप्रयोगतत्त्व, युद्धकुतूहल, पुनर्पिवाहविधि, पुरश्चरणचंद्रिका (काशीनाथ), पुरश्चरणचंद्रिका (माधव पाठक), पुरश्चरणचंद्रिका (परमहंस), पुरश्चरणचंद्रिका (गोविंदानंद), पैतृमेधिकसूत्र, यत्याराधनप्रयोग, यल्लाजीय, यशवंतभास्कर, पैतृमेधिक, पुरश्चरणकौस्तुभ, पुरश्चरणकौमुदी, पुनर्पिवाहमीमांसा, पैतृकतिथिनिर्णय, पैङ्ग्यस्मृति, पृथ्वीरहस्य, पृथ्वीमहोदय, पुत्रस्वीकारनिरुपण (अज्ञात), पुत्रस्वीकारनिरुपण (रामपण्डित), यत्यनुष्ठानपद्धति, यत्यंतकर्मपद्धति, यत्याचारसंग्रहीययतिसंस्कारप्रयोग, यत्याचारसप्तर्षिपूजा, पुत्रप्रतिगृहप्रयोग, पुत्रक्रमदीपिका, यतिसंस्कारोपयोगिनिर्णय, यत्यनुष्ठान, यतिसंस्कारप्रयोग (रायम्भट्ट), यतिसंस्कारप्रयोग (विश्वेश्वर), यतिसन्ध्यावार्तिक, पुष्याहवाचनप्रयोग, यतिसिद्धांतनिर्णय, पुंसवनादिकालनिर्णय, पिष्टपशुमीमांसाकारिका, यतिलिंगसमर्थन, यतिसंस्कार, यतिवल्लभा, पिष्टपशुमण्डनव्याख्यार्थदीपिका, पिष्टपशुमण्डन, यतिवन्दनसमर्धन, यतिवन्दनशतदूषणी, यतिवन्दननिषेध, यतिमरणोपयुक्तांशसंग्रह, यतिनित्यपद्धति, यतिपत्नीधर्मनिरूपण, पिष्टपशुखण्डनमीमांसा, पितृसांवत्सरिकश्राद्धप्रयोग, यतिधर्मसंमुच्चय (विश्वेश्वर सरस्वती), पिष्टपशुखण्डन, यंतिधर्मसंग्रह, पितृहितकरणी, पितृमेधसूत्र, यतिधर्मसंमुच्चय (रघुनाथ भट्टाचार्य), यतिधर्मसंमुच्चय (यादवप्रकाश), पितृमेधसारसुधीविलोचन, महारुद्रपद्धति (अचलदेव द्विवेदी), महारुद्रपद्धति (नारायण), महारुद्रपद्धति (परशुराम), महारुद्रपद्धति (रामचन्द्राचार्य), महारुद्रपद्धति (मालजित), महारुद्रपद्धति (अनंतदीक्षित), महारुद्रपद्धति (वेदांगराय), महारुद्रपद्धति (विष्णुशर्मा), महारुद्रपद्धति (बलभद्र), महारुद्रपद्धति (काशीदीक्षित), महारुद्रन्यासपद्धति, महारुद्रयज्ञपद्धति, पितृमेधसार (वेंकटनाथ), पितृमेधसार (गोपालयज्वा), पितृमेधविवरण, पितृमेधभाष्य, पितृमेधप्रयोग, पितृभक्तितरंगिणी, पितृभक्ति, पितृपद्धति, पितृदयिता, पिण्डपितृयज्ञप्रयोग (हरिहर), पिण्डपितृयज्ञप्रयोग (विश्वेश्वर भट्ट), पिण्डपितृयज्ञप्रयोग (चन्द्रचूड़ भट्ट), पार्वणस्थालीपाकप्रयोग, पार्वणश्राद्धप्रयोग (देवभट्ट), पार्वणश्राद्धप्रयोग (छन्दोगो), पार्वणश्राद्धपद्धति, पार्वणप्रयोग, पार्वणचन्द्रिका, पार्वणचटश्राद्धप्रयोग, महाप्रयोगसार, महाप्रवरनिर्णय, महारुद्रजपहोमपूजापद्धति, महारुद्रकर्मकलापद्धति, महाप्रवरभाष्य, महादानवाक्यावली, महादेवपरिचर्याप्रयोग, महादीपदानविधि, महादानानुक्रमणिका, महादेवीय, महादानपद्धति (रूपनारायण), महादानपद्धति (विश्वेश्वर), मलमासरहस्य, मलमासार्थसंग्रह, मलमासनिर्णयतंत्रसार, महादाननिर्णय, महागणपतिपूजापद्धति, मानवगृह्यसूत्र, मानसोल्लास, मार्कण्डेयस्मृति, मानवश्राद्धकल्प, मानसागरीयपद्धति, माध्यन्दिनीयाचारसंग्रहदीपिका, माधषोल्लास, माधवीयमारोद्धार, मातृदत्तीय, मातृसांवत्सरिकश्राद्धप्रयोग, मातृस्थापनाप्रयोग, मात्रादिश्राद्धनिर्णय, मातृगोत्रनिर्णय (मुदगलात्मज लौगाक्षि भास्कर), माच्डव्यस्मृति, मातृगोत्रनिर्णय (नारायण), माधोद्यापन, मांसमीमांसा, मांसविवेक (विश्वनाथ पंचानन), मांसविवेक (भट्ट दामोदर), मांसपीयूषलता, मांसमक्षणदीपिका, मांसनिर्णय, महिषीदानमंत्र, महेश्वरर्धाधर्म, महाशिवरात्रिनिर्णय, महाशांति, महाष्टमीनिर्णय, महिषीदान, महाविष्णुपूजापद्धति (अखण्डानन्द), महाविष्णुपूजापद्धति (चैतन्यगिरि), महालयश्राद्धपद्धति, महार्णवब्रतार्क, महार्णव (मान्धाताकृत), महालयप्रयोग, महार्णव (विश्वेश्वरभट्ट), मङ्गलनिर्णय, मलमासतत्त्व, मलमासनिर्णय (दशपुत्र), मलमासनिर्णय (वञ्चेश्वर), मलमासनिर्णय (बृहस्पति), मलमासनिरूपण, मरणकर्मपद्धति, मर्यादासिन्धु, मरणसामयिकनिर्णय, मलमासकार्याकार्यनिर्णय, मयूरचित्रक (भट्टगुरु), मयूरचित्रक (नारद), मंत्रसारसंग्रह (शिवराम), मंत्रसारसंग्रह (सदाचारचन्द्रिका), मंत्रतंत्रभाष्य, मंत्ररत्नदीपिका, मंत्रमुक्तावली, मंत्रकोश, मंत्रतंत्रप्रकाश, मंत्रकमलाकर, मंत्रप्रकाश, मदनरत्न, मध्वाह्निक, मधुपर्कपद्धति, मधुपर्कनिर्णय, मदनपारिजात, मतपरीक्षा, मण्डपनिर्णय, मण्डपप्रकरण, मण्डपोद्वासनप्रयोग, मथुरासेतु, मतोद्धार, मण्डपकुण्डसिद्धि, मणिमञ्जरीच्छेदिनी, मण्डपकर्पव्यतापूजापद्धति, मण्डपकुण्डमण्डन, मठोत्सर्ग (कमलाकर), मठोत्सर्ग (माग्निदेव), मठाम्नायादिविचार, मञ्जरी, मठप्रतिष्ठातत्त्व, मकरन्दप्रकाश, भ्रष्टवैष्णवखण्डन, भैरवार्चापारिजात (श्रीनिवासभट्ट), भैरवार्चापारिजात (जैत्रसिंह), भूपालकृत्यसमुच्चय, भूपालपद्धति, भूपालवल्लभ, भूप्रतिमादान, मृगुस्मृति, भुजबलभीम, भुक्तिप्रकरण, भुक्तिदीपिका, भिक्षुतत्त्व, भीमपराक्रम, भास्कराह्निक, बह्वृचाह्निक, बह्वृचश्राद्धप्रयोग, बह्वृचषोडशकर्ममंत्रविवरण, बह्वृचसन्ध्यापद्धतिभाष्य, बह्वृचगृह्यकारिका, बह्वृचकर्मप्रयोग, प्रासादप्रतिष्ठा (नृहरि), प्रासादप्रतिष्ठा (भागुणिमिश्र), प्रायश्चित्तोद्धार, प्रासाददीपिका, प्रायश्चित्तौघसार, प्रायश्चित्तेन्दुशेखरसारसंग्रह, प्रायश्चित्तोद्द्योत (दिनकर), प्रायश्चित्तोद्द्योत (मदनसिंह देव), प्रायश्चित्तसेतु, प्रायश्चित्ताध्याय, प्रायश्चित्तानुकमणिका, प्रायश्चित्तेन्दुशेखर, प्रायश्चित्तसारावलि, प्रायश्चित्तसुधानिधि, प्रायश्चित्तसुबोधिनी, प्रायश्चित्तसारकौमुदी, प्रायश्चित्तसारसंग्रह (आनन्दचन्द्र), प्रायश्चित्तसारसंग्रह (नागोजिभट्ट), प्रायश्चित्तसारसंग्रह (रत्नाकर मिश्र), प्रायश्चित्तसार (श्रीमदाउचा शुक्ल दीक्षित), प्रायश्चित्तसार (भट्टोजि दीक्षित), प्रायश्चित्तसार (दलपति), प्रायश्चित्तसार (त्र्यम्बकभट्ट मोल्ह), प्रायश्चित्तसार (हरिराम), प्रायश्चित्तसार (यादवेन्द्र), प्रायश्चित्तसदोदय, प्रायश्चित्तसमुच्चय (भास्कर), प्रायश्चित्तसमुच्चय (त्रिलोचनशिव), प्रायश्चित्तशतद्वयीकारिका, प्रायश्चित्तश्लौकपद्धति, प्रायश्चित्तसंक्षेप, प्रायश्चित्तसंग्रह (नारायण भट्ट), प्रायश्चित्तसंग्रह (देवराज), प्रायश्चित्तसंग्रह (कृष्णदेव स्मार्तवागीश), बुद्धिप्रिकाश, बाष्कलस्मृति, बालावबोधपद्धति, बालार्कोदय, बुधस्मृति, बुधभूषण, बार्हस्पत्यसूत्र, बालबोधक, बालम्भट्टी, बालमरणविधिकर्तव्यता, बार्हस्पत्यसंहिता, बार्हस्पत्यस्मृति, बादरायणस्मृति, बार्हस्पत्यमुहूर्तविधान, फलाभिषेक, बहिर्न्याससूत्र, बहिर्मातृका, बहिर्यागपूजा, बलदेवाह्निक, फलप्रदीप, बभ्रुस्मृति, प्रेतप्रदीप, प्रेतप्रदीपका, प्रेतमञ्जरी, प्रेतमुक्तिदा, प्रेतश्राद्धत्र्यवस्थाकारिका, प्रौढमताव्जमार्तण्ड, प्रेतकृत्यनिर्णय, प्रेतकृत्यादिनिर्णय, प्रासादप्रतिष्ठादीधिति, प्रासादशिवप्रतिष्ठाविधि, प्रयोगचूडामणि, प्रयोगरत्न (अनंत), प्रयोगरत्न (अनंतदेव), प्रयोगमुक्तावलि (भिभिसूरि तिर्पिलि), प्रयोगमुक्तावलि (वीरराघव), प्रयोगमंजरीसंहिता, प्रयोगमणि, प्रयोगपारिजातसारावलि, प्रयोगप्रदीप, प्रयोगपद्धतिसुबोधिनी, प्रयोगपारिजात (नृसिंह), प्रयोगपारिजात (नरसिंह), प्रयोगपारिजात (रघुनाथ वाजपेयी), प्रयोगपारिजात (पुरुषोत्तम भट्ट), प्रयोगपद्धति (गंगाधर), प्रयोगपद्धति (कात्यायनश्राद्धसूत्र), प्रयोगपञ्चरत्न, प्रयोगदीपिकावृत्ति, प्रयोगदीपिका (मञ्चनाचार्य), प्रयोगदीपिका (रामकृष्ण), प्रयोगदीप, प्रयोगदर्पण (नारायण), प्रयोगदर्पण (गोपालात्मज पद्मनाभ दीक्षित), प्रयोगदर्पण (रमानाथ विद्यावाचस्पति), प्रयोगदर्पण (वीरराघव), प्रयोगदर्पण (वैदिकसार्वभौम), प्रत्यवरोहणप्रयोग, प्रतिततिथिनिर्णय, प्रयोगतत्त्व, प्रयोगचिंतामणि, प्रयोगतिलक, प्रयागकृत्य, प्रयागप्रकरण, प्रयोगचन्द्रिका (श्रीनिवास), प्रयोगचन्द्रिका (वीरराघव), प्रयागसेतु, प्रयागकौस्तुभ, प्रमाणसारप्रकाशिका, प्रमेयमाला, प्रमाणपल्लव, प्रभाकराह्निक, प्रमाणदर्पण, प्रमाणसंग्रह, प्रपन्नदिनचर्या, प्रपन्नलक्षण, प्रपन्नौर्ध्वदेहिकविधि, पार्थिवलिंगपूजा, प्रपन्नगतिदीपिका, प्रपञ्चामृतसार, प्रपञ्चसार, प्रपञ्चसारविवेक, प्रदोषपूजापद्धति, प्रदोषनिर्णय, प्रदीपिका, प्रतीताक्षरा, प्रतिसरवन्धप्रयोग, प्रायश्चित्तकौमुदी (रामकृष्ण), प्रायश्चित्तकौमुदी (कृष्णदेव), प्रायश्चित्तशतद्वयी, प्रायश्चित्तव्यवस्थासंक्षेप, प्रायश्चित्तव्यवस्थासार, प्रायश्चित्तव्यवस्थाग्रह, प्रायश्चित्तविवेकोद्द्योत, प्रायश्चित्तविवेक (शूलपाणि), प्रायश्चित्तविवेक (श्रीनाथकृत), प्रायश्चित्तविनिर्णय (यशोधर भट्ट), प्रायश्चित्तविनिर्णय (भट्टोजि), प्रायश्चित्तविधि (मयूर अप्पयदीक्षित), प्रायश्चित्तविधि (भास्कर), प्रायश्चित्तविधि (शौनक), प्रायश्चित्तविधि (वसिष्ठस्मृति), प्रायश्चित्तवारिधि, प्रायश्चित्तरहस्य, प्रायश्चित्तरत्नाकर, प्रायश्चित्तरत्नमाला, प्रायश्चित्तरत्न, प्रायश्चित्ततत्त्व, पारिजात (भानुदत्त), पारिजात (मदनपारिजात), पारस्करश्राद्धसूत्रवृत्त्यर्थसंग्रह, पारस्करमंत्रभाष्य, पारस्करगृह्यसूत्रपद्धति (कामदेव), पारस्करगृह्यसूत्रपद्धति (भास्कर), पारस्करगृह्यसूत्रपद्धति (वासुदेव), पारस्करगृह्यपरिशिष्टपद्धति, पाञ्चालजातिविवेक, पारस्करगृह्यकारिका, पाणिग्रहणादिकृत्यविवेक, पाकयज्ञप्रयोग, पृथ्वीचन्द्र, पृथगुद्वाह, पूर्वाह्ललीला, पूर्तोद्द्योत, पूर्तमाला, पूर्तप्रकाश, पूर्तकमलाकर, प्रायश्चित्तमार्तण्ड, प्रायश्चित्तमुक्तावली (दिवाकर), प्रायश्चित्तमुक्तावली (रामचन्द्र भट्ट), प्रायश्चित्तमयूख, प्रायश्चित्तमनोहर, प्रायश्चित्तमंजरी, प्रायश्चित्तप्रयोगरत्नमाला, प्रायश्चित्तप्रयोग (बलशास्त्री कागलकर), प्रायश्चित्तप्रयोग (दिवाकर), प्रायश्चित्तप्रयोग (अनंतदीक्षित), प्रायश्चित्तप्रयोग (त्र्यम्बक), प्रायश्चित्तप्रदीपिका, प्रायश्चित्तप्रदीप (गोपालसूरि), प्रायश्चित्तप्रदीप (शंकरमिश्र), प्रायश्चित्तप्रदीप (वाहिनीपति), प्रायश्चित्तप्रदीप (राजचूड़ामणि), प्रायश्चित्तप्रदीप (रामशर्मा), प्रायश्चित्तप्रदीप (वरदाधीशयज्वा), प्रायश्चित्तप्रदीप (प्रेमनिधि), प्रायश्चित्तप्रदीप (केशवभट्ट), प्रायश्चित्तप्रकाश, प्रायश्चित्तप्रकरण (भवदेव बालबलभीभुजंग), प्रायश्चित्तप्रकरण (भट्टोजि), प्रायश्चित्तप्रकरण (रामकृष्ण), प्रायश्चित्तप्रदीप (प्रतापनारसिंह), प्रायश्चित्तपारिजात (गणेशमिश्र महामहोपाध्याय), प्रायश्चित्तपारिजात (रत्नपाणि), प्रायश्चित्तपद्धति (कामदेव), प्रायश्चित्तपद्धति (जम्बूनाथ सभाधीश), प्रायश्चित्तपद्धति (रामचन्द्र), प्रायश्चित्तपटल, प्रायश्चित्तनिर्णय (गोपाल न्यायपंचानन), प्रायश्चित्तनिर्णय (अनंतदेव), प्रायश्चित्तनिरूपेण, प्रायश्चित्तनिरूपण, दानहेमाद्रि, दानहीरावलिप्रकाश, दानसौमय, प्रायश्चित्तदीपिका(लोकनाथ), प्रायश्चित्तदीपिका (वाहिनीपति), प्रायश्चित्तदीपिका(राम), प्रायश्चित्तदीपिका(भास्कर), प्रायश्चित्तचिंतामणि, प्रायश्चित्तचन्द्रिका (विश्वनाथ भट्ट), प्रायश्चित्तचन्द्रिका (राधाकांतदेव), प्रायश्चित्तचन्द्रिका (रमापति), प्रायश्चित्तचन्द्रिका (मुकुन्दलाल), प्रायश्चित्तचन्द्रिका (महादेवात्मज दिवाकर), प्रायश्चित्तकुतूहल (रघुनाथ), प्रायश्चित्तकुतूहल (रामचन्द्र), दोलयात्रातत्त्व, धर्मदीपिका, धर्मदीप, धर्मतत्त्वार्थचिंतामणि, धर्मतत्त्वसंग्रह, धर्मतत्त्वप्रकाश, धर्मतत्त्वकलानिधि, धर्मतत्त्वकमलाकर, धर्मचन्द्र, धर्मकोश, धर्मकारिका, पूजाप्रदीप, पूर्णचन्द्र, पूजारत्नाकर, पूजाप्रकाश, पूजापाल, पूजापद्धति (रामचन्द्र भट्ट), पूजापद्धति (जयतीर्थ), पूजापद्धति (आनन्दतीर्थ), पूजनमालिका, पुष्पसारसुधानिधि, पाकयज्ञपद्धति, पाकयज्ञनिर्णय, पुष्पमाला, पुष्पचिंतामणि, पुष्टिमार्गोयाह्निक, पशुपतिनिबन्ध, पशुपतिदीपिका, पवित्रारोपणविधान, पवित्ररोगपरिहारप्रयोग, पल्लीशरटविधान, पल्लीशरटयो शांति, पल्लीशरटयो फलाफलविचार, पल्लीशरटकाकभासादिशकुन, पल्लीपतनशांति, पल्लीपतनविचार, पल्लीपतनफल, पल्लीपतन, पलपीयूषलता, पर्वनिर्णय (धर्मसिन्धु), पर्वनिर्णय (रघुनाथ), पर्वनिर्णय (मुरारि), पर्वनिर्णय (गणपति रावल), यतिधर्मसंग्रह, यतिधर्मप्रबोधिनी, यतिधर्मप्रकाश (विश्वेश्वर), यतिधर्मप्रकाश (वासुदेवाश्रम), पर्वकालनिर्णय, पर्वतदानविधि, पर्वसंग्रह, परिशिष्टसंग्रह, पर्यंकाशौचविधि, पर्णपुरुष, यतिधर्म (अज्ञात), परीक्षापद्धति, यतिधर्म (पुरुषोत्तमानन्द सरस्वती), परिशेषखण्ड, परिशिष्टप्रकाश, यतिखननादिप्रयोग, परिशिष्टदीपकलिका, परिभाषाविवेक, पराशरस्मृति, परशुरामप्रताप, यतिक्षौरविधि, यज्ञोपवीतपद्धति, यज्ञोपवीतनिर्णय, यज्ञसिद्धांतसंग्रह, यज्ञसिद्धांतविग्रह, यज्ञपार्श्वसंग्रहकारिका, परशुरामप्रकाश, यजुःशाखाभेदतत्त्वनिर्णय, परशुरामकारिका, यजुर्वेदीयश्राद्धविधि, यजुर्वेदिश्राद्धतत्त्व, यजुर्वेदिवृषोत्सर्गतत्त्व, पण्डितसर्वस्व, पण्डितपरितोष, परमेश्वरीदासाब्धि, पतितसंसर्गप्रायश्चित्त, परमहंससन्न्यासविधि, परमहंससन्न्यासपद्धति, परभूजातिनिर्णय, पद्मव्यास, पद्मनाभनिबन्ध, पद्धतिरत्न, पदार्थादर्श, पदचन्द्रिका, पतितसहगमननिषेधनिरासप्रकाश, पतितत्यागविधि, पंचायतनसार, पंचायतनप्रतिष्ठापद्धति, पंचायतनपद्धति, पंचाग्निकारिका, पंचसूत्रीविधान, पंचसंस्कारविधि, पंचसंस्कारदीपिका, पंचसंस्कार, पञ्चविधान, पञ्चमाश्रमविधि, पञ्चदशकर्म, पञ्चक्रोशयात्रा, पंचकालक्रियादीप, पंचायतनपूजा, पञ्चलक्षणविधि, पञ्चमीव्रतोद्यापन, पञ्चमहायज्ञप्रयोग, पञ्चद्राविडजाति, पञ्चर्गोडब्राह्मणजाति, पञ्चगव्यमेलनप्रकार, पञ्चक्रोशसन्न्यासाचार, पंचकशांतिविधि, न्यासपद्धति, न्यायदीपिका, नैमित्तिकप्रयोगरत्नाकर, नृसिंहार्चनपद्धति, नृसिंहाब्धिमहोदधि, नृसिंहप्रसाद, नौकादान, पञ्चकविधान, नृसिंहपूजापद्धति, नृसिंहपरिचर्या (कृष्णदेव), नृसिंहपरिचर्या (अनंत), नृसिंहजयंतीनिर्णय, नूतनमूर्तिप्रतिष्ठा, नूतनप्रतिष्ठाप्रयोग, यजुर्वल्लभा, नीलोद्वाहपद्धति, नीलोत्सर्गपद्धति, नीलवृषोत्सर्ग, नीराजनप्रकाश, नीतिसुभावलि, नीतिसारसंग्रह, नीतिसार (शुक्राचार्य), नीतिसार (वटकर्पर), नीतिसमुच्चय, धनुर्वेदसंग्रह, नीतिशास्त्रसमुच्चय, धनुर्वेदसंहिता, धनुर्वेदचिंतामणि, धनुविद्यादीपिका, धनिष्ठापंचक, धनञ्जयसंग्रह, दृभामुष्यायणनिर्णय, द्वैतविषयविवेक, द्वैतनिर्णयामृत, द्वैतनिर्णयसिद्धांतसंग्रह, द्वैतनिर्णयसंग्रह, द्वैतनिर्णयफक्किका, द्वैतनिर्णयपरिशिष्ट, मूल्याध्याय, मूल्यसंग्रह, यहुर्विवाहपद्धति, मोक्षेश्वरनिबन्ध, मोक्षकल्पतरु, मैत्रायणीगृह्यपरिशिष्ट, मैत्रायणीगृह्यपद्धति, मैत्रायणीयगृह्यपदार्थानुक्रम, मृत्युमहिषीदानविधि, मृत्युञ्जयस्मृति, मृत्तिकास्नान, मूल्यनिरुपण, नीतिवाक्यामृत, नीतिमंजरी (लक्ष्मीधरात्मज), नीतिप्रकाश (वैशम्पायन), द्वैतनिर्णय (चन्द्रशेखर वाचस्पति), द्वैतनिर्णय (विश्वनाथ), द्वैतनिर्णय (शंकरभट्ट), नीतिरत्नाकर (चण्डेश्वर), नीतिरत्नाकर (कृष्णबृहत्पंडित), नीतिलता, नीतिमंजरी (शम्भुराज), द्वैतनिर्णय (वाचस्पति मिश्र), द्वैतनिर्णय (नरहरि), निर्णयोद्धारखण्डनमण्डन, निर्णयोद्धार, नीतिप्रकाश (कुलमुनि), निर्णयार्णव, द्विभार्याग्नि, निर्णयार्यप्रदीप, नीतिकमलाकर, नीतिकल्पतरु, नीतिगर्भितशास्त्र, नीतिचिंतामणि, नीतिदीपिका, नीतिप्रदीप, नीतिमयूख, द्विजकल्पलता, नीतिमाला, द्वैततत्त्व, नीतिरत्न, नीतिविलास, नीतिविवेक, द्विसप्ततिश्राद्ध, द्विविधजलाशयोत्सर्गप्रमाणदर्शन, द्विजाह्निकपद्धति, द्वादशयात्राप्रयोग, द्वादशाहकर्मविधि, द्वादशविधुपुत्रमीमांसा, निर्णयामृत (रघुनन्दन), निर्णयामृत (रामचन्द्र), निर्णयामृत (गोपीनारायण), द्वादशयात्रातत्त्व, निर्णयामृत (सूर्यसेन), द्वादशमासदेयदानरत्नाकर, द्वात्रिशत्कर्मपद्धति, द्रोणचिंतामणि, द्राह्यायणगृह्यसूत्रप्रयोग, द्राह्यायणगृह्यसूत्रकारिका, द्राह्यायणगृह्यपूर्वापरप्रयोग, द्राह्यायणगृह्यपरिशिष्ट, द्रव्यशुद्धिदीपिका, निर्णयानन्द, निर्णयसिन्धु, निर्णयसिद्धांत (रघुराम), निर्णयसिद्धांत (महादेव), द्रव्यशुद्धि, निर्णयसार (लालमणि), निर्णयसार (रामभट्टाचार्य), निर्णयसार (भट्टराघव), निर्णयसार (नन्दराम), निर्णयसार (गोस्वामी), निर्णयसार (क्षेमंकर), निर्णयसमुदाय, निर्णयसंग्रह (मधुसूदन), निर्णयसंग्रह (प्रतापरुद्र), निर्णयशिरोमणि, निर्णयरत्नाकर, निर्णयमंजरी, निर्णयभास्कर, निर्णयबिन्दु (वक्कण), निर्णयबिन्दु (अनंतदेव), निर्णयप्रदीपिका, निर्णयप्रकाश, निर्णयपीयूष, निर्णयदीपिका, देवप्रतिष्ठातत्त्व, देवपद्धति, देवदासप्रकाश, देवजानीय, दूलालीय, दुष्टरजोदर्शनशांति, दुर्गोत्सवविवेक (आचार्य चूड़ामणि), दुर्गोत्सवविवेक (शूलपाणि), दुर्गोत्सवप्रमाण, दुर्गोत्सवनिर्णय (न्यायपंचानन), दुर्गोत्सवनिर्णय (गोपाल), दुर्गोत्सवतत्त्व, दुर्गोत्सवचन्द्रिका, दुर्गोत्सवकृत्यकौमुदी, दुर्गावतीप्रकाश, दुर्गार्णव, दुर्गार्चामुकुर, दुर्गार्चाकौमुदी, दुर्गार्चाकालनिष्कर्ष, दुर्गार्चनामृतरहस्य, दुर्गाभक्तिलहरी, दुर्गाभक्तिप्रकाश, मूलादिशान्ति, मूलशान्तिविवि, मूलशान्तिविधान, मूलनक्षत्रशान्तिप्रयोग, मूलनक्षत्रशान्ति, मूर्तिप्रतिष्ठापन, मूर्खहा, मुहूर्ताबलि, मुहूर्तालंकार (जयराम), मुहूर्तालंकार (गंगाधर), मुहूर्तार्क, मुहूर्तामृत, मुहूर्तस्कन्ध, मुहूर्तसिन्धु, मुहूर्तसिद्धि (महादेव), मुहूर्तसिद्धि (नागदेव), मुहूर्तसिद्धि (अज्ञात), मुहूर्तसारिणी, मुहूर्तसार, मुहूर्तसर्वस्व, मुहूर्तसंग्रह, मुहूर्तशिरोमणि, मुहूर्तवृत्तशत, प्रयोगसार (शिवप्रसाद), प्रयोगसार (निजानन्द), प्रयोगसार (गंगाभट्ट), प्रयोगसागर, प्रयोगलाघव, प्रयोगरत्नसंग्रह, प्रयोगसंग्राह, प्रयोगरत्नसंस्कार, प्रयोगरत्नमाला (वासुदेव), प्रयोगरत्नमाला (पुरुषोत्तम विद्यावागीश), प्रयोगरत्नमाला (चौण्डप्पाचार्य), प्रयोगरत्नभूषा, प्रयोगरत्न (वासुदेवदीक्षित), प्रयोगरत्न (हरिहर), प्रयोगरत्न (महादेव), प्रयोगरत्न (महेश), प्रयोगरत्न (भट्टोजि), प्रयोगरत्न (नृसिंहभट्ट), प्रयोगरत्न (नारायण भट्ट), प्रयोगरत्न (प्रेमनिधि), प्रयोगरत्न (काशीदीक्षित), प्रयोगरत्न (केशवदीक्षित), दोलारोहणपद्धति, दोलायात्रामृत, देवशवल्लभ, दोलयात्रामृतविवेक, दैवज्ञमनोहर, देशांतरमृतक्रियानिरूपण, दैवज्ञचिंतामणि, देवीपूजापद्धति, देवीपूजनभास्कर, देवीपरिचर्या, देवालयप्रतिष्ठाविधि, देवस्थापनकौमुदी, देवलस्मृति, देवयानिकपद्धति, देवप्रतिष्ठाप्रयोग, धर्माधर्मप्रबोधिनी, धर्मविवेक (विश्वकर्मा), धर्मविवेक (चन्द्रशेखर), मुहूर्तविधानसार, मुहूर्तविवरण, मुहूर्तलक्षणपटल, मुहूर्तराजीय, मुहूर्तरत्नाकर, मुहूर्तराज, धर्मसार (पुरुषोत्तम), धर्मसार (प्रभाकर), धर्मसिन्धु, धर्मसंग्रह (हरिश्चन्द्र), धर्मसंग्रह (नारायणशर्मा), मुहूर्तरत्नमाला, धर्मशास्त्रसंग्रह, धर्मसेतु (रघुनाथ), धर्मसेतु (पराशर गोत्र के तिर्मल), धर्मप्रदीप (वर्धमान), धर्मप्रदीप (भोज), धर्मप्रदीप (धनञ्जय), धर्मप्रदीप (गंगाभट्ट), धर्मप्रवृत्ति, धर्मप्रकाश (शंकरभट्ट), मुहूर्तरत्न (शिरोमणिभट्ट), मुहूर्तरत्न (रघुनाथ), मुहूर्तरत्न (गोविन्द), मुहूर्तरत्न (ईश्वरदास), धर्मप्रकाश (माधव), मुहूर्तरचना, मुहूर्तमुक्तामणि (श्री हरिभट्ट), धर्मविवृत्ति, मुहूर्तमुक्तामणि (श्रीकण्ठ), मुहूर्तमुक्तामणि (लक्ष्मीदास), मुहूर्तमुक्तामणि (योगीन्द्र), मुहूर्तमुक्तामणि (भास्कर), मुहूर्तमुक्तामणि (देवराम), मुहूर्तमुक्तामणि (काशीनाथ), मुहूर्तमुक्तामणि (अज्ञात), मुहूर्तमाला, मुहूर्तमार्तण्ड (नारायण भट्ट), मुहूर्तमार्तण्ड (केशव), मुहूर्तमाधवीय, मुहूर्तमणि, धर्मरत्नाकर, धर्मरत्न, धर्मभाष्य, धर्मबोधन, धर्मबिन्धु, धर्मप्रश्न, धर्मप्रदीपिका, धर्मपरीक्षा, देवप्रतिष्ठापद्धति, देवतावारिपूजा, दूतयोगलक्षण, दूतलक्षण, दुर्गार्चनकल्पतरु, धर्मपद्धति, धर्मनिर्णय, धर्मनिबन्धन, धर्मनिबन्ध, जयसिंहकल्पद्रुम, दुर्गाभक्तितरंगिणी (माधव), जयमाधवमानसोल्लास, दुर्गापुरश्चरणपद्धति, दुर्गातत्त्व, दुर्गभञ्जन, दीपिका, धर्मानुबन्धिश्लोक, दीपश्राद्ध, दीपमालिका, दीपदानविधि या कारिका, दीपदान, दीक्षानिर्णय, दीपकलिका, धर्मामृत, जयंतीनिर्णय (गोपाल देशिक), ध्वजोच्छाय, दीक्षातत्त्वप्रकाशिका, जयंतीनिर्णय (आनन्दतीर्थ), धर्मामृतमहोदधि, जयतुंग, जन्माष्टमीनिर्णय, धवलनिबन्ध, जन्माष्टमीतत्त्व, धर्मार्णव, जन्ममरणविवेक, दीक्षातत्त्व, दिव्यानुष्ठानपद्धति, जटमल्लविलास, दिव्यसिंहकारिका, धर्मसुबोधिनी, धर्मसारसुधानिधि, दिव्यसंग्रह, दिव्यनिर्णय, जगन्नाथप्रकाश, दिव्यदीपिका, धवलसंग्रह, धर्मसंहिता, दिव्यतत्त्व (देवनाथ), दिव्यतत्त्व (मथुरानाथ), दिवोदासीय, दिवोदासप्रकाश, दिवस्पतिसंग्रह, नक्तकालनिर्णय, नक्षत्रयोगदान, नक्षत्रविधान, दिनभास्कर, नयमणिमालिका, नक्षत्रशांति, धर्मसारसमुच्चय, धर्माधर्मव्यवस्था, धर्माध्वबोध, धर्मशास्त्रसुधानिधि, धर्मसंप्रदायदीपिका, धर्मशास्त्रसर्वस्व, धर्मशास्त्रनिबन्ध, धर्मशास्त्रकारिका, धर्मविवेचन, दिनकरोद्द्योत, दिनत्रयनिर्णय, दिनत्रयमीमांसा, दिनदीपिका, दाहादिकर्मपद्धति, दानसार, दानसागर (बल्लालसेन), दानसागर (कामदेव महाराज), दानसागर (अनन्तभट्ट), दासीदान, दायाधिकारक्रम, दानसंक्षेपचन्द्रिका, दानविवेकोद्द्योत, दानवाक्यावलि (विद्यापति), दानवाक्यावलि (नरराज), दानरत्नाकर (भट्टराम), दानवाक्यसमुच्चय, दानरत्नाकर (चण्डेश्वर), दानरत्न (अनूपविलास), दानरत्न (दानचन्द्रिका), दानविजय, दानवाक्य, दानवाक्यावलि (अज्ञात), दानमुक्तावली, दानमयूख, दानमनोहर, दानफलव्रत, दानमञ्जरी, दानप्रदीप (महामहोपाध्याय माधव), दानप्रदीप (दयाराम), दानप्रदीप (दयाशंकर), दानपारिजात (अनन्तभट्ट), दानपारिजात (क्षेमेन्द्र), दानपरीक्षा, दानपरिभाषा, दानपद्धति, दानपञ्जी (सूर्यकरशर्मा), दानपञ्जी (रत्नाकर ठक्कुर), दानपञ्जी (नवराज), दानधर्मप्रक्रिया, दानदीधिति, दानदिनकर, दानदर्पण, दानचन्द्रिकावली, दानचन्द्रिका (श्रीनाथ आचार्यचूड़ामणि), दानचन्द्रिका (नीलकण्ठ), दानचन्द्रिका (दिवाकर), दानचन्द्रिका (जयराज), दानचन्द्रिका (गौतम), दानकौस्तुभ, दानदीपवाक्यसमुच्चय, दानमहिमा, दानफलविवेक, दानप्रकार, दानप्रकरण, दानतत्त्व, दशनिर्णय (वेंकटनाथ वैदिकसार्वभौम), दशनिर्णय (प्रयोगचन्द्रिका), दानकौमुदी (गोविन्दानन्द), दानकौमुदी (रामजय तर्कालंकार), दानकौतुक, दानकल्पतरु, दानकल्प, दानकमलाकर, दशाहविवाह, दशसंस्कारपद्धति, दशश्लोकी, दशमुखकोटिहोमप्रयोग, दशषेनुदानपद्धति, दशकर्मव्याख्या, दशाहकर्म, दशाविकालनिर्णय, दशसंस्कारप्रकरण, दशविधविप्रपद्धति, दशकालनिर्णय, दशकर्मपद्धति (पृथ्वीधर), दशकर्मपद्धति (गणपति), दशकर्मपद्धति (भवदेव भट्ट), दशकर्मपद्धति (नारायण भट्ट), दशकर्मपद्धति (महामहोपाध्याय कालेसि), दधकर्मदीपिका, दर्शश्राद्धप्रयोग (भट्ट गोविन्द), दर्शश्राद्धप्रयोग (शिवराम), दर्शसञ्चिका, दर्शश्राद्ध, दर्शश्राद्धपद्धति, दर्शनिर्णय, दत्तार्चमकौमुदी, दत्तावर्स, दत्तसिद्धान्तमञ्ञरी, दत्तसिद्धान्तमंजरी, दत्तसंग्रह, दत्तपिधि, दत्तरत्नार्पण, दत्तसिद्धान्तमन्दारमंजरी, दत्तरत्नाकर, दत्तरत्नप्रदीपिका, दत्तपुत्रविचार, दत्तपुत्रतत्त्वविवेक, दत्तदायप्रकाश, दत्तहोमानुकमणिका, दत्तमञ्जरी, दत्तस्मृतिसार, दत्तपुत्रविधि, दत्तचिन्तामणि, दत्तकोज्ज्वल, दत्तकविवेक, दत्तकसपिण्डनिर्णय, दत्तकविधि (वाचस्पति), दत्तकविधि (नीलकण्ठ), दत्तकमीमांसा (माधवाचार्य), दत्तकमीमांसा (नन्दपण्डित), दत्तकपुत्रविधि, दत्तकपुत्रविधान (नृसिंहभट्ट), दत्तकपुत्रविधान (अनन्तदेव), दत्तकनिर्णय (श्रीनाथ भट्ट), दत्तकनिर्णय (शूलपाणि), दत्तकनिर्णय (विश्वनाथ उपाध्याय), दत्तकनिर्णय (तात्याशास्त्री), दत्तकदीधिति, दत्तकदर्पण, दत्तकतिलक, दत्तकतत्त्वनिर्णय, दत्तकचन्द्रिकाटीका, दत्तकचन्द्रिका (तोलप्पर), दत्तकचन्द्रिका (कोलप्पाचार्य), दत्तकचन्द्रिका (कुबेर पण्डित), दत्तकौस्तुभ, दत्तककौमुदी, दक्षिणद्वारनिर्णय, त्रैवर्णिकसन्न्यास, त्रैलोक्यसार, त्रैलोक्यसागर, त्रिस्थलीसेतुसार, त्रिस्थलीसेतुप्रघट्टक, त्रिस्थलीसेतु (नारायन भट्ट), त्रिस्थलीसेतु (काशीनाथ भट्ट), त्रिस्थलीविधि, त्रिवेणीपद्धति, त्रिविक्रमपद्धति, दत्तककुठार, दण्डकशान्ति, त्रिकालसंध्या, तिथिनिर्णय (राघवभट्ट), ढुण्डुपद्धति, ढुण्डिप्रताप, टोडरप्रकाश, ज्योतिस्तत्त्व, ज्योतिवप्रकाश, ज्योतिषार्णव, ज्योतिषरत्न (केशव तर्कपंचानन), ज्योतिषरत्न (सिद्धेश्वर), ज्योतिर्नृसिंह, ज्योतिर्निबन्ध, ज्योतिरर्णव, ज्योतिःसारसमुच्च्य (नन्द), ज्योतिःसारसमुच्च्य (रघुनन्दन), तिथिनिर्णय (स्मृत्यर्थसार), तिथिनिर्णय (लघुमाघवीय), तिथिनिर्णय (सुदर्शन), ज्योतिःसारसंग्रह (हृदयानन्द विद्यालंकार), तिथिनिर्णय (सिद्धलक्षण), ज्योतिःसारसंग्रह (रघुनन्दन), तिथिनिर्णय (शुभड्कर ), तिथिनिर्णय (शिवानन्द), तिथिनिर्णय (वैद्यनाथ), तिथिनिर्णय (विश्वेश), ज्योतिःसार, तिथिनिर्णय (वाचस्पति), तिथिनिर्णय (रामप्रसाद), गोविन्दार्णव, ज्योतिःसागरसार (विद्यानिधि), ज्योतिःसागरसार (मथुरेश), तिथिनिर्णय (रामचन्द्र), जन्मदिवसपूजापद्धति, जयंतकारिका, जन्मदिनकृत्यपद्धति, ज्योतिःसागर, ज्योतिःकालकौमुदी, तिथिनिर्णय (रघुनाथ), जगद्वल्लभा, ज्ञानानन्दतरंगिणी, ज्ञ्येष्ठाविधान, छागलेयस्मृति, छन्दोगाह्निकोद्धार, छन्दोपहारावलि, छन्दोगाह्निकपद्धति, छन्दोगाह्निक, छन्दोगश्राद्ध, छन्दोगप्रायश्चित, छन्दोगपरिशिष्ट, तिथिनिर्णय (रमापति), तिथिनिर्णय (माधव), तिथिनिर्णय (महादेव), तिथिनिर्णय (मथुरानाथ), तिथिनिर्णय (भट्टोजि), तिथिनिर्णय (बालकृष्ण), तिथिनिर्णय (पक्षधर मिश्र), तिथिनिर्णय (नारायण भट्ट), तिथिनिर्णय (नागोजि भट्ट), तिथिनिर्णय (नागदेव), तिथिनिर्णय (देवदास मिश्र), तिथिनिर्णय (दयाशंकर), तिथिनिर्णय (गोविन्द भट्ट), तिथिनिर्णय (गोपाल), तिथिनिर्णय (गंगाधर), तिथिनिर्णय (कमलाकर), तिथिनिर्णय (अनंतभट्ट), तिथिनिर्णय (कालमाधव), ज्ञानांकुर, ज्ञानरत्नावलि, छन्दोगश्राद्धतत्त्व, छन्दोगश्राद्धदीपिका, छन्दोगानीयाह्निक, ज्ञानमाला, ज्ञानभास्कर, चन्दनवेनुदानप्रमाण, तिथिनिर्णयसंग्रह, गोभिलग्रह्यसूत्र, ज्ञातिभेदविवेक, जैमिनिगृह्ममन्त्रवृत्ति, जैमिनिगृह्म, तिथिनिर्णयसंक्षेप, जीवत्पितृकविभागव्यवस्था, ग्रहयोगशांति, तिथिनिर्णयमार्तण्ड, जीवत्पितृककर्तव्यसंचय, चतुश्चत्चारिशतसंस्कारा, चतुर्विशतिस्मृतिधर्मसारसमुच्चय, चतुर्विशतिमत, तिथिनिर्णयदीपिका, तिथिनिर्णयतत्त्व, तिथिनिर्णयचक्र, तिथिनिर्णयकारिका, चतुर्वर्गचिंतामणि, चतुर्दशश्लोकी, चतुरशीतिज्ञातिप्रशस्ति, चण्डूकनिबन्ध, चण्डीप्रयोग (नागोजीभट्ट), चण्डीप्रयोग (कमलाकर), चण्डिकार्चनदीपिका, तिथिद्वैतप्रकरण, चक्रनारायणीय निबन्ध, तिथिद्वैतनिर्णय, तिथिदीपिका, जीवत्पितृककर्तव्यनिर्णय (बालकृष्ण पायगुण्डे), जीवत्पितृककर्तव्यनिर्णय (रामकृष्ण भट्ट), तिथिदीधिति, चक्रनारायणीय, घृतप्रदानरत्न, ग्रामनिर्णय, तिथिचन्द्रिका (हरिदत्त मिश्र), ग्रहशांतिपद्धति, तिथिदर्पण, तिथितत्त्वसार, तिथितत्त्वचिंतामणि, तिथितत्त्व, ग्रहशांति, ग्रहयाज्ञप्रयोगतत्त्व, ग्रहयाज्ञकौमुदी, ग्रहयज्ञविधान, तिथिचन्द्रोदय, ग्रहयज्ञनिरुपण, ग्रहयज्ञपद्धति, ग्रहयज्ञप्रयोग, ग्रहयज्ञदीपिका, ग्रहयज्ञतत्त्व, ग्रहयज्ञकारिका, ग्रहमखतिलक, ग्रहदानप्रयोग, ग्रहणश्राद्धनिर्णय, ग्रहणनिर्णय, ग्रहणक्रियाक्रम, ग्रंथविधानधर्मकुसुम, गौडनिबन्धसार, तिथिचन्द्रिका (पक्षधर मिश्र), तिथिचक्र, तिथिकौस्तुभ, छन्दोगपद्धति, गौतमस्मृति, गौतमवर्गसूत्र, छन्दोगगृह्य, गौडीयचिंतामणि, गौडसंवत्सरप्रदीप, गौडश्राद्धकौमुदी, छन्दोगकर्मानुष्ठानपद्धति, गौडनिबन्ध, गोविन्दमानसोल्लास, चौलोपनयन, गोवधप्रायश्चित्त, गोभिलीयश्राद्धकल्प, गोभिलसंध्यासूत्र, तारकोपदेशव्यवस्था, गोभिलश्राद्धसूत्रभाष्य, तिथिकल्पद्रुम, तप्तमुद्राविवेक, गोभिलपरिशिष्ट, तप्तमुद्राविद्रावण, तर्पणचन्द्रिका, तप्तमुद्राधारण, तंत्रप्रकाश, तत्त्वार्थदीप, तत्त्वार्थकौमुदी, तप्तमुद्राखण्डन, चौलोपनयनप्रयोग, चूडाकर्मप्रयोग, चूडाकर्म, चारुचर्या (भोजराज), चूडाकरणकेशांतौ, चारुचर्या (क्षेमेन्द्र), चारायणीयगृह्यपरिशिष्ट, चातुर्वण्यविवेचन, चातुर्वण्यविवरण, चातुर्वर्ण्यविचार, चातुर्वर्ण्यधर्मसंग्रह, चातुर्मास्यकारिका, चातुराश्रम्यधर्म, चाणक्यसूत्र, चलार्चापद्धति (नारायण), तत्त्वमुक्तावली, गोपालार्चनचन्द्रिका (अज्ञात), गोपालार्चनचन्द्रिका (लक्ष्मीनाथ), तत्त्वसंग्रह, गोपालसिद्धांत, गोपालरत्नाकार, तत्त्वसागर, गृह्यपद्धति, गृह्यपदार्थानुक्रम, जीवत्पितृककर्तव्यनिर्णय (बालकृष्ण भट्ट), तत्त्वसार, जीर्णोद्धारविधि, गृह्यतात्पर्यदर्शन, गृह्यकौमुदी, तत्त्वसारसंहिता, गृह्यकारिका (रेणुक), गृह्यकारिका (कर्क), गृह्यकारिका (भूवाक), गृह्यकारिका (कनकसभापति), गृह्यकारिका (जयंत), जीवच्छ्राद्धप्रयोग (शौनक), जीवच्छ्राद्धप्रयोग (नारायण भट्ट), जिकनीवनिबन्ध, तत्त्वामृतसारोद्धार, गृहस्थकल्पतरु, जातिसांकर्यवाद (अनन्ताल्वार), गृहस्थरत्नाकर, जातिसांकर्यवाद (वेणीराम शाकद्वीपी), जातिसांकर्य, गृहस्थमुक्ताफल, जातिविवेकसंग्रह, गृहवास्तु, जातिविवेकशतप्रश्न, गृहप्रतिष्ठातत्त्व, गृहपतिधर्म, गूढार्थदीपिका, जातिविवेक (गोपीनाथ), गूढदीपिका, गुणिसर्वस्व, गुणमञ्जरी, तत्त्वनिर्णय, जातिविवेक (विश्वेश्वरभट्ट), तत्त्वदीप, जातिविवेक (विश्वनाथ), जातिविवेक (रघुनाथ), जातिविवेक (पराशर), जातिविवेक (नारायण भट्ट), तत्त्वकौस्तुभ, जातिविवेक (त्र्यम्जक), जातिविवेक (कृष्णगोबिन्द पण्डित), जातिविवेक (शेषकृष्णकृत), जातिमाला (पराशरपद्धति), जातिमाला (सोमनाथ), गालवस्मृति, गार्हस्थ्यवीथिका, तडागादिप्रतिष्ठाविधि, गार्ग्यस्मृति, तडागोत्सर्गतत्त्व, गार्गीयपद्धति, जातिमाला (रुद्रयामलतन्त्र), जातरिष्टचादिनिर्णय, जारकर्माविचालाशकमन्ति, जातकर्मपद्धति (दामोदर), जातकर्मपद्धति (केशवभट्ट), जातकर्म, जलाशयोत्सर्गतत्त्व, जलाशयारामोत्सर्गविधि, तडागादिप्रतिष्ठापद्धति, जलाशवप्रतिष्ठा (कमलाकर), जलाशवप्रतिष्ठा (नारायण भट्ट), तडागादिपद्धति, गायत्रीपुरश्चरणविधि (अनंतदेव), गायत्रीपुरश्चरणविधि (गोर्वाणेन्द्र), जलयात्रा, जयार्णव, तडागप्रतिष्ठा, जयाभिषेकप्रयोग, जयानिर्बन्ध, गायत्रीपुरश्चरणविधि (गायत्रीपुरश्चरणचन्द्रिका), गायत्रीपुरश्चरणविधि (शारदातिलक), गायत्रीपुरश्चरण (साम्बभट्ट), गायत्रीपुरश्चरण (शिवराम), गायत्रीपुरश्चरण (शंकर), गायत्रीपुरश्चरणप्रयोग, गायत्रीपुरश्चरणचन्द्रिका, गायत्रीपद्धति, गागाभट्टपद्धति, गर्गाषानादि दशसंस्कारपद्धति, गर्गस्मृति, गर्गपद्धति, गयाश्राद्धादिपद्धति, गयाश्राद्धविधि, गयाश्राद्धप्रकरण, गंगावाक्यावली, गयाश्राद्धपद्धति (रघुनन्दन), गयाश्राद्धपद्धति (अनंतदेव), गयाश्राद्धपद्धति (अज्ञात), गयावाराणसीपद्धति, चलार्चापद्धति (अनंतदेव), गयायात्राप्रयोग, गयाप्रयोग, चाणक्यनीति (अज्ञात), गयाप्रकरण, चाणक्यनीति (क्रेस्लर), गयापद्धतिदीपिका, चाणक्यनीतिदर्पण, चाणक्यनीतिसारसंग्रह, गोपालकारिका, गयापद्धति (रघुनाथ), गोपालपूजापद्धति, गयापद्धति (अनंतदेव), गोपालपद्धति, चाणक्यसप्तति, चाणक्यसारसंग्रह, गयानुष्ठानपद्धति (रघुनन्दन), गयानुष्ठानपद्धति (नारायण भट्ट), गोदानविधिसंग्रह, गोत्रामृत, गोत्रप्रवरोच्चार, गोत्रप्रवरविवेक, गयादासनिवन्ध, गोत्रप्रवररत्न, गधस्तिस्मृति, गोत्रप्रवरमञ्जरीसारोद्धार, चलाचलमूर्तिप्रतिष्ठा, चमत्कारचिंतामणि (वैद्यनाथ), चमत्कारचिंतामणि (राजर्षिभट्ट), गद्यव्यास, गद्यविष्णु, गद्यदेवल, गणेशविमर्शिनी, गणेशशांति, चमत्कारचिंतामणि (नारायण भट्ट), गणेशपद्धति, गणपतितत्वविवेक, गोत्रप्रवरमञ्जरी (शंकर तान्त्रिक), चन्द्रोदय, चन्द्रस्मृति, चन्द्रप्रकाश, गंगाभक्तिप्रकाश, गंगामृत, गोत्रप्रवरमञ्जरी (पुरुषोत्तम पण्डित), गंगाभक्तिरसोदय, गंगाभक्तितरंगिणी (चतुर्भुजाचार्य), गंगाभक्तितरंगिणी (गणपति), चन्द्रनिबन्ध, चन्द्रकलिका, चन्द्रकमलाकर, चन्दनधेनूत्सर्गपद्धति, गोत्रप्रवरमञ्जरी (केशव), गोत्रप्रवरभास्कर, गोत्रप्रवरनिर्णयवाक्यसुधार्णव, गंगाधरपद्धति, गंगाकृत्यविवेक, कृत्यरत्नावली, गोत्रप्रवरनिर्णय (सदाराम), गोत्रप्रवरनिर्णय (विश्वेश्वर), खादिरग्रह्यकारिका, खेटपीठमाला, खादिरग्रह्य, क्षौरनिर्णय, क्षेमप्रकाश, गोत्रप्रवरनिर्णय (रघुनाथ), कृत्यमञ्जरी, गोत्रप्रवरनिर्णय (माधवाचार्य), गोत्रप्रवरनिर्णय (भट्टोजिदीक्षित), गोत्रप्रवरनिर्णय (पद्मनाभ), कृत्यतत्त्वार्णव, गोत्रप्रवरनिर्णय (नारायण भट्ट), क्षयाधिकमासविवृति, गोत्रप्रवरनिर्णय (नागेशभट्ट), गोत्रप्रवरनिर्णय (जीवदेव), गोत्रप्रवरनिर्णय (नन्दिग्राम के केशवदैवज्ञ), गोत्रप्रवरनिर्णय (गोपीनाथ), कृत्यसार, कृत्यसागर, कृत्यसारसमुच्चय (वाचस्पति), कृत्यसारसमुच्चय (अमृतनाथ ओझा), कृत्यसमुच्चय, कृत्यविलासमंजरी, कृत्यराज, कृत्यरत्नाकर (लोकनाथ), कृत्यरत्नाकर (लक्ष्मीधर), कृत्यरत्नाकर (मुदाकरसूरि), कृत्यरत्नाकर (चण्डेश्वर), कृत्यमहार्णव, कृत्यरत्न (खण्डेराय), गोत्रप्रवरनिर्णय (अनंतदेव), गोत्रप्रवरनिर्णय (कमलाकर), कृत्यरत्न (निर्णयसिन्धु), गोत्रप्रवरनिर्णय (आपदेव), कृत्यप्रदीप, गोत्रप्रवरदीप, गोत्रप्रवरखण्ड, कृत्यदीप (कृष्णमित्राचार्य), गोत्रप्रवरदर्पण, कृत्यदीप (देवदासप्रकाश), गोत्रप्रवरकारिका, गोत्रनिर्णय (महादेव दैवज्ञ), कृत्यपूर्तिमञ्जरी, गोत्रनिर्णय (बालम्भट्ट), गोत्रनिर्णय (केशवदैवज्ञ), कृत्यदर्पण, कृत्यतत्त्व (कृष्णदेव स्मातंवागीश), कृत्यतत्त्व (रघुनन्दन), कृत्यचिंतामणि (शिवराम शुक्ल), गृह्मोक्तकर्मपद्धति, गृह्मासंग्रहपरिशिष्ट, कृत्यचिंतामणि (वाचस्पति), कृत्यचिंतामणि (चण्डेश्वर), गृह्मासंग्रह, गृह्माग्निसागर, कृत्यचन्द्रिका (रुद्रधर), गृह्मसूत्रप्रकाशिका, कृत्यचन्द्रिका (रामचन्द्र), कृत्यकौमुदी (सिद्धांतवागीश), गृह्मसंग्रह, गृह्मसूत्र्पद्धति, कृत्यकौमुदी (जगन्नाथ), कृत्यकौमुदी (गोपीनाथ मिश्र), कृत्यकालबिनिर्णय, कृत्यकल्पलता, कृत्यकल्पद्रुम, गृह्मरत्न, कृत्यकल्पतरु, कृतिसारसमुच्चय, कृतिवत्सर, कृच्छादिसुप्रबोधिनीपद्धति, क्रियापद्धति, कोटचक्र, कौशिकस्मृति, कृच्छ्लक्षण, कृच्छ्चान्द्रायणलक्षण, कूष्माण्डहोमप्रयोग, कूष्माण्डहोम, कूपप्रतिष्ठा, कुशकण्डिका, गृह्मभाष्यसंग्रह, गृह्मप्रदीपकभाष्य, कुरुक्षेत्रप्रदीप (माधवाचार्य), क्रियाकैरवचन्द्रिका, क्रियाप्रदीप, क्रियाश्रय, कुमारस्मृति, क्रियासार, कुमारतंत्र, क्षत्रियसन्धया, क्षयमासकृत्यनिर्णय, क्षयमासनिर्णय, क्षयमाससंसर्पकार्याकार्यनिर्णय, क्षयमाससंसर्पकार्याकार्यनिर्णयखण्डन, कुण्डोदधि, कुण्डार्णव, कुण्डार्कमणिदीपिका, क्रमदीपिका (नित्यानन्द), क्रमदीपिका (केशवाचार्य), क्रमदीपिका (वर्षक्रियाकौमुदी), कुण्डसिद्धि (रामभट्ट्), कुण्डसिद्धि (विश्वेश्वर भट्ट्), कुण्डार्क, कुण्डाकृति, क्रतुस्मृति, कौषीतकिगृह्यकारिका, कौशिकसूत्रप्रयोगदीपिकावृति, कुण्डसाधनविधि, कौशिकहगृह्यसूत्रपद्धति, कुण्डश्लोकप्रकाशिका, कौशिकहगृह्यसूत्र, कुण्डश्लोकदीपिका, कुण्डविधान, कुण्डशिरोमणि, कुण्डप्रबन्ध, कुण्डविचार, कुण्डलक्ष्मविवृति, कुण्डलक्षण, कुण्डरत्नावलि, कौमुदीनिर्णय, कौतुकचिन्तमणि, कुण्डरत्नाकर, कुण्डप्रदीप (महादेव राजगुरु), कोटिहोमप्रयोग, कुण्डरचनारीति, कुण्डप्रदीप (राजगुरु, कान्हजिद्वाडव), केशवार्णव, कृष्णामृतमहार्णव, कुण्डप्रकाश, कृष्णार्चनचन्द्रिका, कृष्णभट्टीय, कुण्डपरिमाण, कुण्डपद्धति, कुण्डनिर्माणश्लोकदीपिका, कुण्डनिर्माणश्लोक, कृष्णभक्तिकल्पवल्ली, कुण्डदिक्पाल, कुण्डतत्त्वप्रदीप, कृष्णपद्धति, कुण्डमार्तण्ड (राम वाजपेयी), कृत्यार्णव, कुण्डतत्त्वप्रकाश, कुण्डमार्तण्ड (गोविन्ददैवज्ञ), कुण्डचमत्कृति, कुण्डकौमुदि (शिवसूरि), कुण्डकौमुदि (विश्वनाथ), कुण्डमरीचिमाला, कुण्डकारिका, कुण्डमण्डपहोमविधि, कुण्डकल्पलता, कुण्डमण्डप्रसिद्धि (विट्ठलदीक्षित), कुण्डकल्पद्रुम, कीर्तिप्रकाश, कुण्डमण्डप्रसिद्धि (नीलकण्ठ), कीर्तिचन्द्रोदय, काशीरहस्यप्रकाश, कुण्डमण्डपसंग्रह, काशीमृतिमोक्षनिर्णय (विश्वनाथाचार्य), काशीमृतिमोक्षनिर्णय (सुरेश्वराचार्य), कुण्डमण्डपविधि (लक्ष्मण देशिकेन्द्र), कुण्डमण्डपविधि (राम वाजपेयी), कुण्डमण्डपविधि (बाबूदीक्षित जड़े), कुण्डमण्डपविधि (केशव भट्ट), कुण्डमण्डपविधान (नीलकण्ठ), कुण्डमण्डपविधान (अनंतभट्ट्), कुण्डमण्डपलक्षण, कुण्डमण्डपमण्डनप्रकाशिका, कुण्डमण्डपपद्धति, कुण्डमण्डपनिर्णय (नीलकण्ठ), कुण्डमण्डपनिर्णय (परशुरामपद्धति), कुण्डमण्डपदर्पण, कुण्डमण्डपचन्द्रिका, कुण्डमण्डप, काशीमाहात्म्यकौमुदी, काशीमरणमुक्तिविचार, काशीप्रकाश, कुण्डगणपति, कीर्तितत्त्व, काशीमुक्तिप्रकाशिका, आह्निककौस्तुभ, आह्निककृत्य, आह्निककौतुक, काशीतत्व, कालादर्श, आह्निककारिका, आह्निक (छल्लारि नृसिंह), आह्निक (ज्ञानभास्कर), आह्निक (व्रजराज), आह्निक (वैद्यनाथ दीक्षित), आह्निक (विश्वपतिभट्ट), आह्निक (विट्ठलाचार्य), काशीतत्वप्रकाशिका, काशीतत्वदीपिका, काशीखण्डकथाकेलि, काल्यर्चनचन्द्रिका, कालोत्तर, कालिकार्चादीपिका, कालिकाकार्चनपद्धति, कालिकार्चनप्रदीप, कालिकाकार्चनसंहिता, कालावलि, कालसिद्धांत, आह्निक (रघुनाथ), आह्निक (भट्टोजि), आह्निक (बलभद्र), आह्निक (दिवाकर भट्ट), आह्निक (गोपाल देशिकाचार्य), आह्निक (गंगाधर), आह्निक (कमलाकर), आह्निक (आपदेव), आह्निक (आनन्द), कालसार, आह्निक (कतिपय), कालसर्वस्व, कालविवेचनसारसंग्रह, कालविवेक, कालविधान (नन्द पण्डित), कालविधान (श्रीधर), कालमार्तण्ड, कालमाधवकारिका, कालमयूख, कालभेद, कालभास्कर, कालभाष्यनिर्णय, कालप्रदीप (नृसिंह), कालप्रदीप (दिव्यसिंह), आह्रततीर्थकस्नान प्रयोग, आहिताग्न्यन्त्येष्टि प्रयोग, आहिताग्नेर्दाहादिनिर्णय, कालनिर्णयावबोध, आहिताग्निमरणे दाहादि, आश्वलायनसूत्रप्रयोगदीपिका, आश्वलायनस्मृति, कालनिर्णयसिद्धांत, आश्वलायनसूत्रप्रयोग, आश्वलायनसूत्रपद्धति, आश्वलायनशाखश्राद्धप्रयोग, कालनिर्णयसार, कालनिर्णयसंक्षेप, आश्वलायनयाज्ञिकपद्धति, आश्वलायनप्रयोगदीपिका, कालनिर्णयप्रकाश, आश्वलायनप्रयोग, आश्वलायनधर्मशास्त्र, आश्वलायनगृह्योक्तवास्तुशांति, कालनिर्णयदीपिका (रामचन्द्राचार्य), आश्वलायनगृह्यप्रयोग, आश्वलायनगृह्यपरिभाषा, आश्वलायनगृह्यकारिकावली, आश्वलायनगृह्यकारिका (रघुनाथ दीक्षित), कालनिर्णयदीपिका (काशीनाथ भट्ट), कालनिर्णयदीपिका (कृष्णभट्ट), कालनिर्णय (हेमाद्रि), कालनिर्णय (माधव), आश्वलायनगृह्यकारिका (कुमार स्वामी), आश्वलायनगृह्यकारिका (वुष्यदेव), कालनिर्णय (भट्टोजि), कालनिर्णय (नारायण भट्ट), कालनिर्णय (दामोदर), कालनिर्णय (तोटकाचार्य), कालनिर्णय (आदित्यभट्ट कविवल्लभ), कालनिर्णय (गोपाल न्यायपंचानन), कालनिर्णयचन्द्रिका, कालनिर्णयकौतुक, कालनिरूपण, कालदीप (अज्ञात), कालदीप (दिव्यसिंह महापात्र), कालदिवाकर, कालदानपद्धति, कालतरंग, कालतत्वविवेचनसारसंग्रह, कालतत्वविवेचन, कालचिंतामणि, आशौचेन्दुशेखर (नागोजिभट्ट), आशौचेन्दुशेखर (राम दैवज्ञ), आशौचीयदशश्लोकीविवृति, आशौचादिनिर्णय, आशौचाष्टक, आशौचादर्श, आशौचस्मृतिचन्द्रिका (सदाशिव), आशौचस्मृतिचन्द्रिका (अज्ञात), आशौचसिद्धांत, आशौचसार, आशौचसागर, आशौचसंग्रहविवृति, आशौचसंग्रह (वेंकटेश), आशौचसंग्रह (चतुर्भुज भट्टाचार्य), आशौचसंग्रह (सत्याधीशशिष्य), आशौचसंक्षेप, काठकगृह्यसूत्र, कात्यायनगृह्यकारिका, कातीयगृह्य, काठाकगृह्यपरिशिष्ट, काठकगृह्यपंचिका, काठकगृह्य, काठकाह्निक, काकचण्डेश्वरी, कांस्यपात्रदान, कस्तूरीस्मृति, कश्यपोत्तरसंहिता, कश्यपस्मृति, कविराजकौतुक, कविरहस्य, कल्पवृक्षदान, कल्पद्रुम, कल्पद्रु, कल्पतरु, कलिवर्ज्यनिर्णय, कलियुगधर्माधर्म, कलियुगधर्मसार, कलिधर्मसारसंग्रह, कलिधर्मप्रकरण, कलिधर्मनिर्णय, कलिका, कलानिधि, कर्मोपदेशिनी (हलायुध), कर्मोपदेशिनी (अनिरुद्ध), कर्मानुष्ठानपद्धति, कर्मसिद्धांत, कर्मसरणि, कर्मसंग्रह, कर्मविपाकसारोद्धार, कर्मविपाकसार (दलपतिराज), कर्मविपाकसार (दिनकर), कर्मविपाकसार (शंकर), कर्मविपाकसार (सूर्यराम), कर्मविपाकार्क, कर्मविपाकसारसंग्रह, कर्मविपाकसमुञ्चय, कर्मविपाकसंहिता, कर्मविपाकसंग्रह, कर्मविपाकरत्न, कर्मविपाकप्रायश्चित्त, कर्मविपाकपरिपाटी, कर्मविपाकचिकित्सामृतसागर, कालगुणोत्तर, कालचन्द्रिका (पाण्डुरंग मोरेश्वर भट्ट), कालचन्द्रिका (कृष्णभट्ट मौनी), कार्ष्णाजिनिस्मृति, कालकौमुदी (नीलम्बर), कालकौमुदी (गोपालभट्ट), कालकौमुदी (अज्ञात), कार्तवीर्यार्जुनदीपदानपद्धति (लक्ष्मणदेशिक), कार्तवीर्यार्जुनदीपदानपद्धति (रघुनाथ), कार्तवीर्यार्जुनदीपदान, कारिकामंजरी, कारिकाटीका, कारिका, कारणप्रायश्चित्त, कारिकासमुच्चय, कायस्थोत्पत्ति, कायस्थविचार, कायस्थपद्धति, कायस्थनिर्णय (विश्वेश्वर), कायस्थनिर्णय (अज्ञात), कायस्थक्षत्रियत्वद्रुमदलनकुठार, काम्यकर्मकमला, काम्यसामान्यप्रयोगरत्न, कामिक, कामरूपयात्रापद्धति, कामरूपनिबन्ध, कामधेनु (यतीश), कामधेनु (गोपाल), कामधेनुदीपिका, कर्मविपाक (सूर्यार्णव), कर्मविपाक (शंकरभट्ट), कर्मविपाक (विश्वेश्वर भट्ट्), कर्मविपाक (रामकृष्णाचार्य), कर्मविपाक (रवि), कर्मविपाक (मौलुगि भूपति), कर्मविपाक (मान्धाता), कात्यायनस्मृति, कर्मविपाक (माधवाचार्य), कर्मविपाक (भृगु), कर्मविपाक (भरत), कर्मविपाक (ब्रह्माजी), कर्मविपाक (ज्ञानभास्कर), कर्मविपाक (जीवानन्द), कर्मविपाक (अज्ञात), कात्यायनगृह्यपरिशिष्ट, कर्मप्रायश्चित्त, कर्मप्रदीपिका, कर्मप्रदीप, आशौचदशक, आशौचनिर्णय (भट्टोजि), आशौचनिर्णय (वैदिक सार्वभौम), आशौचनिर्णय (वेदांतरामानुजतातदास), आशौचनिर्णय (वेंकटाचार्य), आशौचनिर्णय (वीरेश्वर), कर्मप्रकाश (रघुनन्दन), आशौचनिर्णय (वरद), आशौचनिर्णय (रामचन्द्र), आशौचनिर्णय (रघुनाथ पण्डित), कर्मप्रकाश (कलायखञ्ज), आशौचनिर्णय (रघुनन्दन), आशौचनिर्णय (माधव), कर्मप्रकाशिका, आशौचनिर्णय (त्र्यम्बक पण्डित), कर्मपीयूष, कर्मपद्धति, आशौचनिर्णय (नागोजि), कर्मनिर्णय, आशौचनिर्णय (जीवदेव), ईश्वरसंहिता, इष्टिकाल, इन्द्रदत्तस्मृति, आह्निकोद्धार, आह्निकामृत, आह्निकाचारराज, आशौचनिर्णय (गोविन्द), आशौचनिर्णय (गोपाल), आशौचनिर्णय (कौशिकाचार्य), आशौचनिर्णय (कौशिकादित्य), आशौचनिर्णय (आदित्याचार्य), आशौचदीपिका (कम्भालूर नृसिंह), आशौचदीपिका (अघोरशिवाचार्य), आशौचदीपिका (विश्वेश्वर भट्ट), आशौचदीपिका (श्यामसुन्दर भट्टचार्य), आशौचदीपक, आशौचदीधिति, आशौचतत्त्व, आशौषतत्त्वविचार, आह्निकस्मृतिसंग्रह, आह्निकसारमंजरी, आह्निकसार (हरिराम), आह्निकसार (सुदर्शनाचार्य), आह्निकसार (बालंभट्ट), आह्निकसार (दलपतिराज), आह्निकसंग्रह, आह्निकसंक्षेप (शिवराम), आह्निकसंक्षेप (वामदेव), आह्निकसंक्षेप (ज्ञानभास्कर), आह्निकसंक्षेप (कौथुमिशाखा), आशौचशतक (वैदिक सार्वभौम), आह्निकविधि (नारायण भट्ट), आशौचशतक (नीलकण्ठ), आह्निकविधि (कमलाकर), आशौचशतक (वेंकटाचार्य), आह्निकरत्नचषक, अशौचचन्द्रिका (रत्नभट्ट), आशौचव्यवस्था, आह्निकरत्न (दाक्षिणात्य शिरोमणिभट्ट), आशौचशतक (रामेश्वर), आह्निकरत्न (अज्ञात), आपस्तम्बसूत्रध्वनितार्थकारिका, आह्निकमंजरीटीका, आपस्तम्बगृह्यसूत्र, आह्निकभास्कर, आशौचशतक (अज्ञात), आह्निकप्रायश्चित, आथर्वणप्रमिताक्षरा, आह्निकप्रयोगरत्नमाला, आशौचविवेक, आशौचमाला, आह्निकप्रयोग (माधवात्मज रघुनाथ), आशौचमंजरी, आह्निकप्रयोग (मनोहर भट्ट), आशौचप्रकाश (पृथ्वीचन्द्र), आह्निकप्रयोग (गोवर्धन कविमण्डन), आह्निकप्रयोग (काशीदीक्षित), आशौचप्रकाश (चतुर्भुज भट्टाचार्य), आशौचपरिच्छेद, आशौचनिर्णयटीका, आह्निकप्रयोग (कमलाकर), अशौचचन्द्रिका (राजकृष्ण), अशौचगंगाघरी, अशौचचन्द्रिका (अज्ञात), अशौचकारिका, आशौचकाण्ड (वैद्यनाथ), आशौचकाण्ड (दिनकरोद्द्योत), आशौच, आर्ष्टिषेणस्मृति, आवसथ्याधानपद्धति, आर्धचन्द्रिका (वैद्यनाथ), आर्धचन्द्रिका (अज्ञात), आरामोत्सर्गपद्धति (भट्टनारायण), आरामोत्सर्गपद्धति (शिवराम), आरामोत्सर्गपद्धति (शयारामोत्सर्गपद्धति), आरामादिप्रतिष्ठापद्धति, आपस्तम्बीयमंत्रपाठ, आपस्तम्बीयद्वादशसंस्काराः, आपस्तम्बीयसंस्कारप्रयोग, आब्दिकनिर्णय, आम्युदयिकश्राद्ध, आम्युदयिकश्राद्धपद्धति, आनन्दकरनिबन्ध, आदिधर्मसारसंग्रह, आपस्तम्बयल्लाखीय, आतुरसन्न्यासविधि (कात्यायन), आतुरसन्न्यासविधि (आंगिरस), आतुरसन्न्यासविधि (अज्ञात), कर्मदीपिका (हरिदत्त), कर्मदीपिका (रघुरामतीर्थ), आपस्तम्बाह्निक (काशीनाथ), आपस्तम्बाह्निक (अज्ञात), आपस्तम्बाह्निक (गोवर्धन कविमण्डन), आपस्तम्बाह्निक (रुद्रदेव तोरो), आपस्तम्बस्मृति (जीवानन्द), आपस्तम्बस्मृति (विज्ञानेश्वर), आपस्तम्बश्राद्धप्रयोग, आपस्तम्बसूत्रकारिका, आपस्तम्बसूत्रसंग्रह, आपस्तम्बप्रायश्चित्तशतद्वयी, आह्निकप्रदीप, आह्निकप्रकाश, आपस्तम्बप्रयोगसार (अज्ञात), आपस्तम्बप्रयोगसार (गंगाभट्ट), आपस्तम्बपूर्वप्रयोगपद्धति, आपस्तम्बप्रयोगरत्न, आह्निकपारिजात, आह्निकपद्धति, आपस्तम्बपूर्वप्रयोगकारिका, आपस्तम्बपूर्वप्रयोग, आह्निकदीपक (शिवराम), आह्निकदीपक (अचल), आशौचनिर्णय (अज्ञात), आशौचनिर्णय (रायस वेंकटाद्रि), आशौचनिर्णय (हरि), आशौचनिर्णय (सोमव्यास), आशौचनिर्णय (श्रीनिवास तर्कवागीश), आह्निकतत्व, आह्निकचिंतामणि, आपस्तम्बपद्धति (विश्वेश्वर भट्ट), आपस्तम्बपद्धति (अज्ञात), आपस्तम्बजातकर्म, आपस्तम्बगृह्यसूत्रकारिकावृत्ति, आपस्तम्बगृह्यसूत्रकारिका, आपस्तम्बगृह्यसार, आपस्तम्बगृह्यभाष्यार्थसंग्रह, आह्निकचन्द्रिका (देवराम), आपस्तम्बगृह्यप्रयोग, आह्निकचन्द्रिका (दिवाकर), आह्निकचन्द्रिका (गोपीनाथ), आह्निकचन्द्रिका (गोकुलचन्द्र), आपस्तम्बगृह्यसूत्रदीपिका, आह्निकचन्द्रिका (कुलमणि शुक्ल), आह्निकचन्द्रिका (काशीनाथ), आथर्वणगृह्यसूत्र, आतुरसन्न्यासपद्धति, अण्णादीक्षितीय, कर्मक्रियाकाण्ड, कर्मकौमुदी (मिश्र विष्णुशर्मा), कर्मकौमुदी (कृष्णदत्त), कर्मकालप्रकाश, कर्मकाण्डसारसमुच्चय, कर्मकाण्डपद्धति, कर्णवेधविधान, कपिलस्मृति, कपिलादान, कपिलादानपद्धति, कपिलसंहिता, कपालमोचनश्राद्ध, कपिलगोदान, कपर्दिकारिका, कदलीव्रतोद्यापन, कन्यागततीर्थविधि, कन्यादानपद्धति, कन्याविवाह, कन्यासंस्कार, कण्वस्मृति, कष्ठभूषण, कठसूत्र, कठपरिशिष्ट, और्ध्वदेहिकाधिकारनिर्णय, और्ध्वदेहिकप्रकरण, और्ध्वदेहिकपद्धति (नारायण भट्ट), और्ध्वदेहिकपद्धति (दयाशंकर), और्ध्वदेहिकपद्धति (कृष्ण दीक्षित), और्ध्वदेहिकपद्धति (कमलाकर भट्ट), आतुरसन्न्यासकारिका, आचार्यचूणामणि, अतिथ्येष्टि, आचार्यगुणादर्श, अर्हन्नीति, आचारोल्लास (खण्डेराव), अहिर्बुध्न्यसंहिता, अहल्याकामधेनु, आचारोल्लास (मथुरानाथ शुक्ल), अहर्विधि, अस्थ्युद्धरण, अस्थिशुद्धिप्रयोग, अस्थिशुद्धि, अस्थिप्रक्षेप, आचारोद्द्योत (मदनसिंहदेव), आचारोद्द्योत (टोडरानन्द), असपिण्डासगोत्रपरिग्रहविधि, असगोत्रपुत्रपरिग्रहपरीक्षा, आचारेन्दुशेखर, अष्टादशस्मृतिसार, आचारेन्दु, अष्टादश संस्कारा, आचारार्क (रामचन्द्र भट्ट), आचारार्क (मथुरानाथ), आचारार्क (दिवाकर), अष्टश्राद्धविधानविधि, अष्टमहामन्त्र पद्धति, आचारार्कक्रम, अष्टमहाद्वादशीनिर्णय, अष्टकाकर्म, अष्टकाकर्मपद्धति, अश्वदान, अश्वत्थप्रतिष्ठा, अश्वत्थपूजा, आचारदीपिका (आचारादर्श), अशौचसार, आचारादर्श, अशौचप्रकाश, अवधूताश्रम, आचारस्मृतिचन्द्रिका, अशौचनिर्णय, अशुद्धिचन्द्रिका, आचारसार, अदसानकालप्रायश्चित्त, आचारसागर, अल्पयम, आचारसंग्रह (हरिहर पण्डित), अलसकाजीर्णप्रकाश, आचारसंग्रह (रत्नपाणि शर्मा), अलञ्कारदान, और्ध्वदेहिकनिर्णय, और्ध्वदेहिकक्रियापद्धति, और्ध्वदेहिककल्पवल्ली, औपासनप्रायश्चित्त, औदच्यप्रकाश, अर्थप्रदीप, अर्थशास्त्र ग्रन्थ, अर्थकौमुदी, अर्जुनार्चापारिजात, अर्जुनार्चन कल्पलता, अर्ध्यानुष्ठान, अर्ध्यप्रदानकारिका, अर्ध्यदान, अर्कविवाह, अर्कविवाहपद्धति, अरुणस्मृति, अयुतहोमविधि, अयाचितकालनिर्णय, अयननिर्णय, अम्बिकार्चनचन्द्रिका, अमृतव्याख्या, अभ्युदयश्राद्ध, अभिलषितार्थचिन्तामणि, अभिनवमाधवीय, अभिनवप्रायश्चित्त, अभक्ष्यभक्ष्यप्रकरण, अब्धि, अब्दपूर्तिपूजा, अब्दपूर्तिप्रयोग, अपिपालकारिका, अपिपालपद्धति, अपमृत्युञ्जयशान्ति, अन्वष्टकानवमीश्राद्धपद्धति, अन्नप्राशनप्रयोग, अन्नप्राशन, अन्नदान, अन्त्येष्टिसामग्री, अन्त्येष्टिप्रायश्चित्त, अन्त्येष्टिविधि, अन्त्येष्टिप्रयोग (विश्वनाथ), अन्त्येष्टिप्रयोग (नारायण भट्ट), अन्त्येष्टिप्रयोग (केशव भट्ट), अन्त्येष्टिप्रकाश, अन्त्येष्टिपद्धति (विश्वनाथ), अन्त्येष्टिपद्धति (भट्टनारायण), अन्त्येष्टिपद्धति (हरिहर), अन्त्येष्टिपद्धति (रामाचार्य), अन्त्येष्टिपद्धति (महेश्वर भट्ट), अन्त्येष्टिपद्धति (अनन्त भट्टात्मज), अन्त्येष्टिक्रियापद्धति, अन्त्यक्रियापद्धति, अन्त्यकर्मपद्धति, अन्त्यकर्मदीपिका, अन्तरिक्षवायुवीर्यप्रकाश, अनूपविवेक, अनूपविलास, ऐन्दवमासनिर्णय, एकोद्दिष्टसारिणी, एकोद्दिष्टश्राद्धप्रयोग, एकोद्दिष्टश्राद्धपद्धति, एकोद्दिष्टश्राद्ध, अनुयागपद्धति (कृष्णानन्द), आचारव्रतादिरहस्य, एकादशीव्रतोद्यापनपद्धति, आचारविवेक (मदनसिंह), एकादशीव्रतनिर्णय, आचारविवेक (मानसिंह), आचारविधि, अनुयागपद्धति (आनन्दतीर्थ), आचारवारिधि, एकादशीविवेक, आचारवाक्यसुधा, आचाररत्नाकर, एकादशीनिर्णयव्याख्या, अनुमरणविवेक, आचाररत्न (चन्द्रमौलि), एकादशीनिर्णय (शंकर), आचाररत्न (लक्ष्मण भट्ट), एकादशीनिर्णय (हरि), आचाररत्न (मणिराम), एकादशीनिर्णय (धरणीधर), आचाररत्न (रघुनन्दन), अनुमरणप्रदीप, अनुभोगकल्पतरु, अनावृष्टिशान्ति, अनाचारनिर्णय, आचारमाला, अनन्ताह्निक, आचारमाधवीय, आचारमयूख, अनन्तभट्टी, आचारमंजरी, एकादशीतत्व, आचारभूषण, अनन्तव्रतोद्यापन, एकादशाहकृत्य, आचारप्रशंसा, एकाग्निदानपद्धति, अनन्तभाष्य, आचारप्रदीप (भट्टोजि), आचारप्रदीप (नागदेव), अध्यायोपाकर्मप्रयोग, अघोमुखजननशान्ति, एकाग्निकाण्डमन्त्रव्याख्या, आचारप्रदीप (केशवभट्ट), आचारप्रदीप (कमलाकर), अधिकमासफल, एकाग्निकाण्ड, अधिकमासनिर्णय, एकवस्त्रस्नानविधि, आचारप्रकाशिका, अधिकमासप्रकरण, आचारप्रकाश, एकनक्षत्रजननशान्ति, अद्भुतोत्पातशान्ति, आचारपद्धति (श्रीधर सूरि)

श्रुतियाँ

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. देखे वृद्धकात्यायन, रघुनन्दन ने उल्लेख किया है (जीवानन्द द्वारा मुद्रित, भाग 1, पृ. 604-644
  2. पृ. 49-71

संबंधित लेख

धर्मशास्त्रीय ग्रन्थ

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः