कालघट  

कालघट नामक एक ऋषि का उल्लेख पौराणिक महाकाव्य महाभारत में हुआ है। महाभारत के अनुसार कालघट जनमेजय के सर्पयज्ञ के सदस्य थे।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

महाभारत शब्दकोश |लेखक: एस. पी. परमहंस |प्रकाशक: दिल्ली पुस्तक सदन, दिल्ली |संकलन: भारत डिस्कवरी पुस्तकालय |पृष्ठ संख्या: 33 |


टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=कालघट&oldid=547881" से लिया गया