कालिंदी  

Disamb2.jpg पाशुपत एक बहुविकल्पी शब्द है अन्य अर्थों के लिए देखें:- कालिंदी (बहुविकल्पी)

कालिंदी भगवान श्रीकृष्ण की आठवीं पत्नी थी। इसे सूर्य की पुत्री कहा गया है, जो श्रीकृष्ण की खोज में वनों में घूमती थी।[1]


इन्हें भी देखें: रुक्मिणी, सत्यभामा एवं जांबवती


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. पौराणिक कोश |प्रकाशक: ज्ञानमण्डल लिमिटेड, वाराणसी |संपादन: राणा प्रसाद शर्मा |पृष्ठ संख्या: 107 |
  2. भागवतपुराण 10.58.17-23; 29.71.43; 83.11; मत्स्यपुराण 47.14

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=कालिंदी&oldid=548358" से लिया गया