कौशिकी नदी  

कौशिकी नदी के उद्गम का उल्लेख कई जगह आता है। एक ही नाम की अलग-अलग जगह पर कई नदियाँ है जो इस प्रकार है:-



टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. 'तत: पुंड्राधिपंवीरं वासुदेव महाबलम्, कौशिकीकच्छनिलयं राजानं च महौजसम्
  2. विराट पर्व महाभारत 30,22
  3. रघुवंश 4,38
  4. श्रीमद्भागवत 5,19,18
  5. वामन पुराण 39,6-8
  6. महाभारत 83,95-96
  7. 'कौशिक्या: संगमे यस्तु द्दषद्वत्याश्च भारत, स्नाति वै नियताहार: सर्वपापै: प्रमुच्यते'
  8. वन पर्व महाभारत 85, 43
  9. भीष्म पर्व महाभारत 9,18
  10. 'कौशिकीं त्रिदिवां कृत्यां निचितां लोहतारिणीम्'

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=कौशिकी_नदी&oldid=376477" से लिया गया