घग्घा नदी  

घग्घा नदी प्राचीन नाम इषद्वति है। इसी नदी के किनारे राजस्थान की प्राचीन सभ्यता कालीबंग विकसित हुई थी।

  • घग्घा नदी का ही दूसरा नाम घग्घर नदी है।
  • यह राजस्थान की सबसे बड़ी आंतरिक प्रवाह की नदी है।
  • यह नदी शिवालिक की पहाड़ियों में स्थित आलका से निकलती है।
  • राजस्थान में यह हनुमानगढ़ ज़िले के हिब्बो स्थान पर प्रवेश कर हनुमानगढ़ में बहती हुई मरनेर के पास विलुप्त हो जाती है लेकिन वर्षा ऋतु में यह गंगानगर में सूरतगढ़ के कुछ गाँवों तक पहुँच जाती है।
  • इस नदी में अक्सर बाढ आती रहती है।
  • यह 'मृत नदी' के नाम से भी विख्यात है।
  • अधिक वर्षा के समय इसका प्रवाह पाकिस्तान के बुहावलपुर पर (अब्बास फोर्ट) तक चला जाता है।

इन्हें भी देखें: घग्घर नदी


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध


टीका टिप्पणी और संदर्भ

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=घग्घा_नदी&oldid=264362" से लिया गया