चतुरंगिणी सेना  

प्राचीन भारत में सेना के चार अंग होते थे-

  1. हाथी,
  2. घोड़े,
  3. रथ और
  4. पैदल।

जिस सेना में ये चारों अंग होते थे, वह चतुरंगिणी कहलाती थी। सेना की गणना अक्षौहिणी से भी होती थीं।

  • 1,09,350 पैदल
  • 65,610 घोड़े
  • 21,870 रथ
  • 21,870 हाथी

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=चतुरंगिणी_सेना&oldid=172079" से लिया गया