जानकी देवी  

जानकी देवी 'बिजोलिया किसान आंदोलन' के प्रणेता विजय सिंह पथिक की धर्मपत्नी तथा स्वतंत्रता सेनानी थीं।

  • 24 फ़रवरी, 1930 को जानकी देवी का विवाह पथिक जी से हुआ था।
  • अपने पति विजय सिंह पथिक के समान ही जानकी देवी ने भी स्वतंत्रता आंदोलन में सक्रिय रूप से भाग लिया।
  • आंदोलन के दौरान दमन और अत्याचार के विरुद्ध जनमानस को जागृत करने के कार्य में वे हमेशा लगी रहीं।
  • 28 मई, 1954 को पथिक जी का मथुरा में निधन हो गया था। उनकी पत्नी जानकी देवी ने अपने क्रांतिकारी पति की स्मृति-रक्षा के लिये जनरलगंज में ‘विजय सिंह पथिक पुस्तकालय’ की स्थापना की थी, लेकिन धीरे-धीरे यह पुस्तकालय बन्द हो गया।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=जानकी_देवी&oldid=634800" से लिया गया