दुःशला  

दुःशला महाभारत में राजा धृतराष्ट्र और गांधारी की पुत्री थी। वह दुर्योधन आदि कौरवों की बहन थी। उसका विवाह सिन्धु नरेश जयद्रथ के साथ सम्पन्न हुआ था।

  • महाभारत के युद्ध में जयद्रथ का वध अर्जुन द्वारा कुरुक्षेत्र में हो गया था।
  • दु:शला ने जयद्रथ की मृत्यु के पश्चात् अपनी संरक्षता में अपने छोटे बालक 'सुरथ' को सिंहासन पर बैठा दिया।
  • पांडवों के अश्वमेध यज्ञ के समय अर्जुन घोड़ा लेकर जब सिन्धु देश पहुँचे, तब सुरथ भय के कारण ही मर गया। इस स्थिति में दु:शला के पौत्र से अर्जुन का युद्ध हुआ।
  • अर्जुन ने सदा दुर्योधन की बहन को अपनी बहन माना था। अतः वे अपनी बहन के पौत्र और सुरथ के पुत्र को जीवन दान देकर आगे बढ़ गये। सुरथ के पुत्र को अर्जुन ने सिन्धु देश का राजा बना दिया था।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=दुःशला&oldid=595976" से लिया गया