देवयानी  

Disamb2.jpg देवयानी एक बहुविकल्पी शब्द है अन्य अर्थों के लिए देखें:- देवयानी (बहुविकल्पी)

देवयानी दैत्यों के गुरु शुक्राचार्य की कन्या थी। वह बृहस्पति ऋषि के पुत्र कच के रूप और गुणों की दिव्य छटा देखकर उस पर मुग्ध हो गयी थी और उसे हृदय से प्यार करने थी।

इन्हें भी देखें: कच देवयानी


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=देवयानी&oldid=276685" से लिया गया