नीलकंठ महादेव  

(नीलकण्ठ महादेव से पुनर्निर्देशित)
नीलकन्ठेश्वर महादेव मन्दिर, मथुरा
शिवलिंग, नीलकन्ठेश्वर महादेव मन्दिर, मथुरा

भगवान शिव को ही नीलकंठ के नाम से जाना जाता है। कहा जाता है कि समुद्र मंथन के समय भगवान शिव ने समुद्र मंथन से निकला विष ग्रहण कर लिया था। उनकी पत्नी, पार्वती ने उनका गला दबाया जिससे कि विष उनके पेट तक नहीं पहुँचे। इस तरह, विष उनके गले में बना रहा। विषपान के बाद विष के प्रभाव से उनका गला नीला पड़ गया था और उन्हें नीलकंठ नाम से जाना जाने लगा।

ध्यान दें अधिक जानकारी के लिए देखें-शिव


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

संबंधित लेख

"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=नीलकंठ_महादेव&oldid=157027" से लिया गया