पद्मा नदी  

पद्मा नदी, बांग्लादेश

पद्मा नदी गंगा नदी के पानी से पोषित होने वाली नदी है। भारतबांग्लादेश के बीच 1997 में हुई 'गंगा जल संधि के अंतर्गत' पद्मा नदी को गंगा नदी से पानी मिलता है। इसकी औसत गहराई 695 फीट (201 मी) और अधिकतम गहराई 1144 फीट (323 मीटर) है। बांग्ला देश में गंगा नदी को प्राय: पद्मा नाम से ही पुकारा जाता है।

गंगा जल संधि

इस संधि के अनुसार फरक्‍का में [1] गंगा का पानी कमी वाली अवधि के दौरान पहली जनवरी से 31 मई तक हर वर्ष संधि में दिए गए फार्मूले के अनुसार 10-दैनिक आधार पर बांटा जा रहा है। संधि की अवधि 30 वर्ष है। हालांकि हर पांच वर्ष में इसकी समीक्षा का प्रावधान है, अभी तक किसी ने भी इसकी मांग नहीं की है। संधि के अनुरूप पानी के बंटवारे की निगरानी एक संयुक्‍त समिति करती है जो दोनों देशों के संयुक्‍त नदी आयोग के सदस्‍यों से बनी है। इस संयुक्‍त समिति की तीन बैठकें हर वर्ष होती है। दोनों देशों की संतुष्‍टि के अनुसार यह संधि 1997 से कार्यान्‍वित की जा रही है।[2]


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. जो भारत में गंगा नदी पर अंतिम नियंत्रण बिंदु है
  2. अंतरराष्ट्रीय सहयोग (हिन्दी) (पी. एच. पी) भारत की आधिकारिक वेबसाइट। अभिगमन तिथि: 27 जुलाई, 2011।

संबंधित लेख

"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=पद्मा_नदी&oldid=234501" से लिया गया