पालकोंडा पहाड़ियाँ  

पालकोंडा दक्षिण-पूर्वी भारत के दक्षिणी आंध्र प्रदेश राज्य में स्थित पर्वत श्रेणीयों की शृंखला है।

  • पालकोंडा पहाड़ियाँ पश्चिमोत्तर से दक्षिण-पश्चिम की ओर स्थित हैं तथा पूर्वी घाट के मध्यवर्ती हिस्से का निर्माण करती हैं।
  • भौगोलिक दृष्टि से यह केंब्रियन युग[1] में निर्मित प्राचीन पर्वतों के अवशेष हैं, जो पेन्नेर तथा उसकी सहायक नदियों द्वारा क्रमश: अपरदित हुए हैं।
  • वेलीकोंडा और पालकोंडा पहाड़ियों के बीच के महाखड्ड में पुंचु और चेयेरु नदियों का संगम मनोरम दृश्य प्रस्तुत करता है।
  • स्फटिक, स्लेट और लावा से बनी पालकोंडा पहाड़ियाँ दक्षिण में 900 मीटर तक ऊँची हैं।
  • पालकोंडा पहाड़ियों के बीच में स्थित घाटियों से होकर कई नदियाँ बहती हैं। जिनमें से कई नदियों पर जलाशय और सिंचाई की व्यवस्था के लिए बांध बनाए गए हैं।
  • ज्वार और मूंगफली यहाँ की मुख्य फ़सलें हैं।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. 57 करोड़ से 50.5 करोड़ वर्ष पहले

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=पालकोंडा_पहाड़ियाँ&oldid=349191" से लिया गया