बाबूराव थोरात  

बाबूराव थोरात (जन्म- 1925, चाँदा, महाराष्ट्र) स्वतन्त्रता सेनानी थे।

परिचय

बाबूराव थोरात का जन्म 1925, महाराष्ट्र के चाँदा जिले के चंद्रपुर ग्राम में हुआ था। उनके पिता का नाम श्री केशव थोरात था। वे दरी-गलीचा के व्यापारी थे।

3 अगस्त, 1955 को सत्याग्रहियों का जो जत्था गोवा की सीमा में प्रवेश करने वाला था, उसका नेतृत्व बाबूराव थोरात कर रहे थे। सत्याग्रहियों का जत्था गोवा की सीमा में प्रवेश करने में तो सफल हो गया, लेकिन वह पुलिस की आँख से बचने में सफल नहीं हुए। गोवा की पुलिस बहुत सख्त थी और वह गोली से कम तो बात ही नहीं करती थी। उसने सत्याग्रहियों पर गोली चला दी और बाबूराव थोरात गोली खाकर शहीद हो गए।[1]


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. महाराष्ट्र के क्रांतिकारी (हिंदी) क्रान्ति1857। अभिगमन तिथि: 15 फ़रवरी, 2017।

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=बाबूराव_थोरात&oldid=584849" से लिया गया