बुरुशास्की भाषा  

Icon-edit.gif इस लेख का पुनरीक्षण एवं सम्पादन होना आवश्यक है। आप इसमें सहायता कर सकते हैं। "सुझाव"

बुरुशास्की भाषा पश्चिमोत्तर कश्मीर के गिलगित भूखंड में रहने वाले बुरुश लोगों द्वारा बोली जाने वाली भाषा है।

  • बुरुशास्की एक अलग-थलग पड़ी हुई भाषा है, जिसका विश्य की किसी अन्य भाषा के साथ संबंध ज्ञात नहीं है।
  • इस भाषा में संज्ञा को चार वर्गों या लिंगों के अनुरूप चिह्नित किया गया है:
  1. पुरुष
  2. स्त्री
  3. किसी भी लिंग के पशु और कुछ निर्जिव वस्तुएँ
  4. अन्य सभी निर्जिव वस्तुएँ
  • अन्य व्याकरणीय विशेषताओं में संज्ञाओं तथा विशेषणों के लिए व सर्वनामों में पुरुष अथवा संदर्भ वस्तु को प्रदर्शित करने के लिए बहुवचन प्रत्यय शामिल हैं, क्रियाओं के लिए अन्य पुरुष के साथ समाप्त होने वाले शब्दों में भी प्रत्यय लगाया जाता है। ये सब लिंग के अनुरूप परिवर्तनशील हैं।
  • बुरुशास्की भाषा में कुछ सार्वनामिक उपसर्ग भी हैं। इस भाषा की कोई लिपि नहीं है।
  • कश्मीर में यासिन नदी घाटी में बुरुशास्की की कुछ हद तक परिवर्तित वर्चिकवार या वर्शिकवार का उपयोग होता है।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः