मधुबाला  

मधुबाला
मधुबाला
पूरा नाम मुमताज़ जहाँ बेगम देहलवी
प्रसिद्ध नाम मधुबाला
जन्म 14 फ़रवरी, 1933
जन्म भूमि दिल्ली
मृत्यु 23 फ़रवरी, 1969
मृत्यु स्थान मुम्बई, महाराष्ट्र
अभिभावक अताउल्लाह ख़ान
पति/पत्नी किशोर कुमार
कर्म भूमि मुम्बई, महाराष्ट्र
कर्म-क्षेत्र अभिनेत्री
मुख्य फ़िल्में मुग़ल ए आज़म, हावडा ब्रिज, कालापानी, महल, झुमरू तथा चलती का नाम गाड़ी आदि।
नागरिकता भारतीय
अद्यतन‎

मधुबाला (अंग्रेज़ी: Madhubala, उर्दू: مدھو بال, पूरा नाम- मुमताज़ जहाँ बेगम देहलवी, जन्म- 14 फ़रवरी 1933 दिल्ली, मृत्यु- 23 फ़रवरी 1969 मुम्बई, महाराष्ट्र) एक प्रसिद्ध भारतीय फ़िल्म अभिनेत्री हैं। मधुबाला भारतीय फ़िल्म इतिहास की सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्रियों में से एक हैं। मुग़ल-ए-आज़म', 'हावडा ब्रिज', 'काला पानी' तथा 'चलती का नाम गाडी जैसी फ़िल्में आज भी सिनेप्रेमियों के दिल के काफ़ी क़रीब है।

जीवन परिचय

सिने जगत् में मधुबाला के नाम से मशहूर महान् अभिनेत्री मुमताज़ जहाँ बेगम देहलवी का जन्म दिल्ली शहर के मध्य वर्गीय मुस्लिम परिवार में 14 फ़रवरी, 1933 को हुआ था। मधुबाला अपने माता-पिता की 5वीं सन्तान थी। उनके माता-पिता के कुल 11 बच्चे थे। मधुबाला के पिता अताउल्लाह ख़ान दिल्ली में एक कोचमैन के रूप मे कार्यरत थे। मधुबाला के जन्म के कुछ समय बाद उनका परिवार दिल्ली से मुम्बई आ गया।

अभिनय की शुरुआत

बचपन के दिनों से ही मधुबाला अभिनेत्री बनने का सपना देखा करती थी। सबसे पहले वर्ष 1942 में मधुबाला को बतौर बाल कलाकार बेबी मुमताज़ के नाम से फ़िल्म 'बसंत' में काम करने का मौक़ा मिला। बेबी मुमताज़ के अभिनय से प्रभावित होकर हिन्दी फ़िल्मों की जानी-मानी अभिनेत्री देविका रानी ने उनसे अपने बैनर 'बाम्बे टाकीज' की फ़िल्म 'ज्वार भाटा' में काम करने की पेशकश की लेकिन मधुबाला उस फ़िल्म मे काम नहीं कर सकी। मधुबाला को फ़िल्म अभिनेत्री के रूप में पहचान निर्माता निर्देशक केदार शर्मा की वर्ष 1947 मे प्रदर्शित फ़िल्म 'नील कमल' से मिली। इस फ़िल्म के असफल होने से भले ही वह कुछ ख़ास पहचान नहीं बना पायीं लेकिन बतौर अभिनेत्री उनका सिने कैरियर अवश्य शुरू हो गया।

मधुबाला के सम्मान में जारी डाक टिकट

सफलता

वर्ष 1949 तक मधुबाला की कई फ़िल्में प्रदर्शित हुई लेकिन इनसे मधुबाला को कुछ ख़ास फ़ायदा नहीं हुआ। वर्ष 1949 मे बॉम्बे टाकीज के बैनर तले बनी फ़िल्म 'महल' की कामयाबी के बाद मधुबाला फ़िल्म इंडस्ट्री मे अपनी पहचान बनाने में सफल हो गयीं। इस फ़िल्म का एक गीत 'आयेगा आने वाला...' सिने दर्शक आज भी नहीं भूल पाये है। वर्ष 1950 से 1957 तक का वक्त मधुबाला के सिने कैरियर के लिये बुरा साबित हुआ। इस दौरान उनकी कई फ़िल्में बॉक्स ऑफिस पर असफल हो गयीं। लेकिन वर्ष 1958 में उनकी फागुन, हावडा ब्रिज, काला पानी तथा चलती का नाम गाड़ी की सफलता ने एक बार फिर मधुबाला को शोहरत की बुंलदियों पर पहुँचा दिया। फ़िल्म हावड़ाब्रिज में मधुबाला ने क्लब डांसर की भूमिका अदा कर दर्शकों का मन मोह लिया। इसके साथ ही वर्ष 1958 में हीं प्रदर्शित फ़िल्म चलती का नाम गाड़ी में उन्होंने अपने कॉमिक अभिनय से दर्शकों को हंसाते-हंसाते लोटपोट कर दिया।

स्वास्थ्य

पचास के दशक मे स्वास्थ्य परीक्षण के दौरान मधुबाला को यह अहसास हुआ कि वह हृदय की बीमारी से ग्रसित हो चुकी है। इस दौरान उनकी कई फ़िल्में निर्माण के दौर में थी। मधुबाला को लगा यदि उनकी बीमारी के बारे में फ़िल्म इंडस्ट्री को पता चल जायेगा तो इससे फ़िल्म निर्माता को नुकसान होगा इसलिये उन्होंने यह बात किसी को नहीं बतायी। के.आसिफ की फ़िल्म मुग़ल ए आज़म के निर्माण मे लगभग दस वर्ष लग गये। इस दौरान मधुबाला की तबीयत काफ़ी ख़राब रहा करती थी फिर भी उन्होंने फ़िल्म की शूटिंग जारी रखी क्योंकि मधुबाला का मानना था कि अनारकली के किरदार को निभाने का मौक़ा बार-बार नहीं मिल पाता है। वर्ष 1960 में जब मुग़ल ए आज़म प्रदर्शित हुई तो फ़िल्म में मधुबाला के अभिनय को देख दर्शक मुग्ध हो गये। हालांकि बदकिस्मती से इस फ़िल्म के लिये मधुबाला को सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का फ़िल्म फेयर पुरस्कार नहीं मिला लेकिन सिने दर्शक आज भी ऐसा मानते है कि मधुबाला उस वर्ष फ़िल्म फेयर पुरस्कार की हकदार थी।

मधुबाला की प्रमुख फ़िल्में[1]
वर्ष फ़िल्म का नाम
1934 बगदाद का चोर
1936 शहीद-ए-मोहब्बत
1942 बसंत
1944 मुमताज महल
1945 धन्ना भगत
1946 राजपूतानी
1946 पुजारी
1946 फुलवारी
1947 सात समुंदरों की मलिका
1947 मेरे भगवान
1947 खूबसूरत दुनिया
1947 दिल की रानी
1947 चित्तौड़ विजय
1947 नील कमल
1948 पराई आग
1948 लाल दुपट्टा
1948 देश सेवा
1948 अमर प्रेम
1949 सिपहिया
1949 सिंगार
1949 पारस
1949 नेकी और बदी
1949 महल
1949 इम्तिहान
1949 दुलारी
1949 दौलत
1949 अपराधी
1950 परदेश
1950 निशाना
1950 निराला
1950 मधुबाला
1950 हँसते आँसू
1950 बेकसूर
1951 तराना
1951 सैंया
1951 नाज़नीन
1951 नादान
1951 खजाना
1951 बादल
1951 आराम
1952 साकी
1952 संगदिल
1953 रेल का डिब्बा
1953 अरमान
1954 बहुत दिन हुये
1954 अमर
1955 तीरंदाज
1955 नकाब़
1955 नाता
1956 शीरी फरहाद
1956 राज हठ
1956 ढाके का मलमल
1957 यहूदी की लड़की
1957 गेटवे आफ इंडिया
1957 एक साल
1958 पोलिस
1958 फागुन
1958 कालापानी
1958 हावड़ा ब्रिज
1958 चलती का नाम गाड़ी
1958 बाग़ी सिपाही
1959 कल हमारा है
1959 इंसान जाग उठा
1959 दो उस्ताद
1960 महलों के ख्वाब
1960 जाली नोट
1960 बरसात की रात
1960 मुग़ल ए आज़म
1961 पासपोर्ट
1961 झुमरू
1961 ब्वाय फ्रेंड
1962 हाफ टिकिट
1964 शराबी
1971 ज्वाला

विवाह

साठ के दशक में मधुबाला ने फ़िल्मों मे काम करना काफ़ी हद तक कम कर दिया था। चलती का नाम गाड़ी और झुमरू के निर्माण के दौरान ही मधुबाला किशोर कुमार के काफ़ी क़रीब आ गयी थीं। मधुबाला के पिता ने किशोर कुमार को सूचित किया कि मधुबाला इलाज के लिये लंदन जा रही है और लंदन से आने के बाद ही उनसे शादी कर पायेगी। लेकिन मधुबाला को यह अहसास हुआ कि शायद लंदन में हो रहे आपरेशन के बाद वह जिंदा नहीं रह पाये और यह बात उन्होंने किशोर कुमार को बतायी इसके बाद मधुबाला की इच्छा को पूरा करने के लिये किशोर कुमार ने मधुबाला से शादी कर ली। शादी के बाद मधुबाला की तबीयत और ज़्यादा ख़राब रहने लगी हालांकि इस बीच उनकी पासपोर्ट (1961), झुमरू (1961) ब्वॉय फ्रेंड (1961), हाफ टिकट (1962) और शराबी (1964) जैसी कुछ फ़िल्में प्रदर्शित हुई। वर्ष 1964 में एक बार फिर से मधुबाला ने फ़िल्म इंडस्ट्री की ओर रुख़ किया। लेकिन फ़िल्म चालाक के पहले दिन की शूटिंग में मधुबाला बेहोश हो गयी और बाद में यह फ़िल्म बंद कर देनी पड़ी।

मृत्यु

अपनी दिलकश अदाओं से लगभग दो दशक तक सिने प्रेमियों को मदहोश करने वाली महान् अभिनेत्री मधुबाला ने मुम्बई में 23 फ़रवरी 1969 को इस दुनिया से अलविदा कह दिया।[2]


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

चित्र वीथिका

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. मधुबाला - एक अपूर्व आकर्षक अभिनेत्री (हिन्दी) (पी.एच.पी) हिन्दी वेबसाइट। अभिगमन तिथि: 29 सितम्बर, 2011।
  2. दिलकश अदाओं की मलिका मधुबाला (हिन्दी) (एच.टी.एम.एल) जागरण। अभिगमन तिथि: 29 सितम्बर, 2011।

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=मधुबाला&oldid=619947" से लिया गया