माही नदी  

माही नदी दक्षिण राजस्थान में मुख्यत: बांसवाड़ा और डूंगरपुर ज़िले की मुख्य नदी है। यह नदी मध्य प्रदेश के धार ज़िले में विंध्याचल पर्वत के 'अममाऊ' स्थान से निकलती है। अपने उद्गम स्थान से यह नदी उत्तर की ओर बहने के पश्चात् खाछू गाँव (बांसवाड़ा) के निकट दक्षिणी राजस्थान में प्रवेश करती है।

  • बांसवाड़ा और डूंगरपूर में बहती हुई यह नदी गुजरात में प्रवेश करती है।
  • कुल 576 किलोमीटर बहने के पश्चात् यह 'खम्भात की खाड़ी' के पास चौड़े मुहाने से होकर लगभग 580 किलोमीटर की दूरी तय करके समुद्र में मिल जाती है।
  • माही नदी की प्रमुख सहायक नदियों में निम्नलिखित नदियाँ हैं-
  1. सोम
  2. जाखम
  3. बनास
  4. चाप
  5. मोरन
  • माही नदी पर बांसवाड़ा ज़िले में 'माही बजाज सागर बाँध' बनाया गया है।
  • नदी द्वारा लाए गए गाद के कारण 'खम्भात की खाड़ी' छिछली हो गई है और इस तरह कभी समृद्ध रहे बंदरगाह को अब बंद कर दिया गया है।
  • इस नदी का थाला भूमि स्तर से काफ़ी नीचे स्थित है और सिंचाई के लिए बहुत कम उपयोगी है।
  • माही नदी की औसत गहराई 42 फीट (14 मीटर) और अधिकतम गहराई है 90 फीट (27 मीटर) है।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=माही_नदी&oldid=611192" से लिया गया