मूल मात्रक  

मूल मात्रक मात्रकों में वे मात्रक हैं, जो अन्य मात्रकों से स्वतंत्र होते हैं, अर्थात् उनको एक–दूसरे से अथवा आपस में बदला नहीं जा सकता है। उदाहरण के लिए लम्बाई, समय और द्रव्यमान के लिए क्रमश: मीटर, सेकेण्ड और किलोग्राम का प्रयोग किया जाता है।

SI पद्धति में मूल मात्रक
राशि मात्रक संकेत
लम्बाई (दूरी) मीटर m
द्रव्यमान किग्रा. kg
समय सेकेण्ड s
ताप कैल्विन k
विद्युत धारा ऐम्पियर a
ज्योति तीव्रता कैण्डला Cd
पदार्थ की मात्रा मोल mol
पूरक मूल मात्रक
तलीय कोण रेडियन Rd
घन कोण स्टेरेडियन Srd

माप तौल की कुछ अन्य पद्धतियाँ

माप तौल की कुछ अन्य पद्धतियाँ निम्नवत् हैं—

एम. के. एस. पद्धति- इस पद्धति में लम्बाई (दूरी) का मात्रक 'मीटर', द्रव्यमान के मात्रक 'किग्रा' व समय का मात्रक 'सेकेण्ड' होता है।

सी. जी. एस. पद्धति- इस पद्धति में लम्बाई (दूरी) का मात्रक 'सेंटीमीटर', द्रव्यमान का मात्रक 'ग्राम' व समय का मात्रक 'सेकेण्ड' होता है।

एफ. पी. एस. पद्धति- इस पद्धति में लम्बाई (दूरी) का मात्रक 'फुट', द्रव्यमान का मात्रक 'पाउण्ड' व समय का मात्रक 'सेकेण्ड' होता है। इसे ब्रिटिश पद्धति भी कहते हैं।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=मूल_मात्रक&oldid=223665" से लिया गया