विजया व्रत  

Disamb2.jpg विजय व्रत एक बहुविकल्पी शब्द है अन्य अर्थों के लिए देखें:- विजय व्रत (बहुविकल्पी)


टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. भविष्योत्तरपुराण 43|2; वर्षक्रियाकौमुदी 9; हेमाद्रि, काल, 625; पुरुषार्थचिन्तामणि 105;
  2. गरुड़पुराण (1|136|1-2
  3. कृत्यकल्पतरु (व्रतखण्ड, 349); कृत्यरत्नाकर (287-291)।
  4. एपिग्रैफिया इण्डिका (3, 53-56) एवं इण्डियन ऐण्टीक्वेरी (25, पृष्ट 345); वर्षक्रियाकौमुदी (36
  5. हेमाद्रि (काल, 633, विष्णुधर्मोत्तरपुराण से उद्धरण)।

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=विजया_व्रत&oldid=189352" से लिया गया