विश्रवा  

विश्रवा एक प्राचीन ऋषि का नाम है जो हर्विभू के गर्भ से उत्पन्न पुलस्त्य मुनि के पुत्र थे।

  • विश्रवा, रामायण के प्रमुख पात्र रावण के पिता थे। इनकी पत्नी इलबिड़ा के गर्भ से उत्पन्न कुबेर, कैकसी या निकसा के गर्भ से उत्पन्न रावण, कुंभकर्ण, और शूर्पणखा और विभीषण हुए।[1]
  • महाभारत के अनुसार कुबेर ब्रह्मा के उपासक थे। जिससे रुष्ट होकर पुलस्त्य का ही आधा अंश ही विश्रवा के नाम से हुआ।
  • कुबेर ने विश्रवा के पास सहचरी के रूप में तीन राक्षसियाँ भेज दीं। जिनके नाम क्रमश: पुष्पोत्कटा, मालिनी और राका थे।



पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. रामायण सुन्दर काण्ड
  • पुस्तक- पौराणिक कोश|पृष्ठ संख्या- 470 | लेखक- राणा प्रसाद शर्मा

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=विश्रवा&oldid=544884" से लिया गया