शीला दीक्षित  

शीला दीक्षित
Sheila-Dixit.jpg
पूरा नाम शीला दीक्षित
जन्म 31 मार्च, 1938
जन्म भूमि कपूरथला, पंजाब
पति/पत्नी स्व. विनोद दीक्षित
संतान एक पुत्र व एक पुत्री
नागरिकता भारतीय
पार्टी भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
पद केरल की पूर्व राज्यपाल, दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री
कार्य काल मुख्यमंत्री- 3 दिसम्बर, 1998 से 4 दिसम्बर, 2013 तक; राज्यपाल- 11 मार्च, 2014 से 25 अगस्त, 2014
शिक्षा स्नातकोत्तर
विद्यालय कान्वेंट ऑफ़ जीसस एंड मैरी स्कूल, मिरांडा हाउस कॉलेज
भाषा हिंदी, अंग्रेज़ी
जेल यात्रा अगस्त 1990 में 23 दिनों की जेल यात्रा
अन्य जानकारी व्यक्तिगत जीवन में आत्म-निर्भर और आत्मविश्वासी महिला शीला दीक्षित ने लगातार तीन बार मुख्यमंत्री पद पर जीत दर्ज करके दिल्ली में एक रिकॉर्ड बनाया है।
अद्यतन‎

शीला दीक्षित (अंग्रेज़ी: Sheila Dikshit, जन्म: 31 मार्च, 1938) केरल की पूर्व राज्यपाल एवं दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री हैं। इनको 17 दिसंबर, 2008 में लगातार तीसरी बार दिल्ली विधान सभा के लिये चुना गया था। इनका मुख्यमंत्री के रूप में कार्यकाल 3 दिसम्बर, 1998 से 4 दिसम्बर, 2013 तक लगातार 15 वर्ष रहा जो एक रिकार्ड है। इनका चुनाव-क्षेत्र नयी दिल्ली हैं। ये दिल्ली की दूसरी महिला मुख्यमंत्री थीं। इनसे पहले सुषमा स्वराज भी दिल्ली की मुख्यमंत्री रह चुकी हैं।

जीवन परिचय

शीला दीक्षित का जन्म 31 मार्च, 1938 को पंजाब के कपूरथला नगर में हुआ था। इनके पति का नाम विनोद दीक्षित है। इन्होंने अपनी शिक्षा दिल्ली के कान्वेंट ऑफ़ जीसस एंड मैरी स्कूल से ली। बाद में स्नातक और कला स्नातकोत्तर की शिक्षा मिरांडा हाउस कॉलेज से ली। इनका विवाह प्रसिद्ध स्वतंत्रता सेनानी तथा पूर्व राज्यपाल व केन्द्रीय मंत्रिमंडल में मंत्री रहे, श्री उमा शंकर दीक्षित के परिवार में हुआ। इनके पति स्व. श्री विनोद दीक्षित, जो भारतीय प्रशासनिक सेवा के सदस्य रहे थे। इनकी दो संतान, एक पुत्र व एक पुत्री हैं।

राजनीतिक परिचय

इन्हें राजनीति में प्रशासन व संसदीय कार्यों का अच्छा अनुभव है। इन्होंने केन्द्रीय सरकार में 1986 से 1989 तक मंत्री पद भी ग्रहण किया था। पहले ये, संसदीय कार्यों की राज्य मंत्री रहीं, तथा बाद में, प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्य मंत्री रहीं। 1984 - 89 में इन्होंने उत्तर प्रदेश की कन्नौज लोकसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व किया था। संसद सदस्य के कार्यकाल में, इन्होंने लोक सभा की एस्टीमेट्स समिति के साथ कार्य किया। इन्होंने भारतीय स्वतंत्रता की चालीसवीं वर्षगांठ की कार्यान्वयन समिति की अध्यक्षता भी की थी। दिल्ली प्रदेश कांग्रेस समिति की अध्यक्ष के पद पर 1998 में कांग्रेस को दिल्ली में अभूतपूर्व विजय दिलायी।

राजनीतिक सफ़र

  • शीला दीक्षित 1984 से 1989 तक कन्नौज संसदीय क्षेत्र से लोकसभा सदस्य थीं। वे लोकसभा की प्राक्कलन समिति में रहीं। उन्होंने संयुक्त राष्ट्र के स्टेटस औफ़ विमन के लिये बने आयोग में भारत की नुमाइंदगी की।
  • 1986 से 1989 में वे केन्द्रीय मंत्रिमंडल में संसदीय मामले की राज्यमंत्री रहीं तथा बाद में प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्यमंत्री बनीं।
  • शीला दीक्षित लगातार तीसरी बार दिल्ली की मुख्य मंत्री बनीं हैं। 1988 में कांग्रेस ने पहली बार उन्हें मुख्यमंत्री के तौर पर दिल्ली की बागडौर सौंपी थी।
  • इस से पहले उन्हें दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी का अध्यक्ष बनाया गया था। मुख्यमंत्री के रूप में शीला दीक्षित की प्राथमिकता प्रशासनिक स्तर पर सहिष्णुता, धर्मनिरपेक्षता तथा विकास पर अमल कराना रही।
  • दिल्ली की मुख्यमंत्री के रूप में वे 2008 में देश की सर्वश्रेष्ठ मुख्यमंत्री चुनी गईं। एनडीटीवी की ओर से उन्हें 2009 का 'पोलिटिशियन और दी ईयर' चुना गया। 70 के दशक में वे यंग विमान एसोसिएशन की अध्यक्ष थीं।[1]

व्यक्तित्व

कई वर्षों के अनुभव के बाद शीला दीक्षित राजनीति के दांव-पेंच बहुत अच्छी राजनीतिज्ञ हैं। एक बेहद कुशल राजनेत्री होने के साथ ही शीला दीक्षित कला प्रेमी भी हैं। व्यक्तिगत जीवन में आत्म-निर्भर और आत्मविश्वासी महिला हैं। लगातार तीन बार मुख्यमंत्री पद पर जीत दर्ज करना स्वयं अपने आप में एक रिकॉर्ड है, जिससे यह साफ प्रमाणित होता है कि शीला दीक्षित के व्यक्तित्व में बेजोड़ नेतृत्व क्षमता है।

योगदान

शीला दीक्षित ने महिला उत्थान के लिए कड़े प्रयास किए हैं साथ ही महिलाओं को समाज में बराबरी का स्थान दिलवाने के लिए चलाए विभिन्न अभियानों का भी इन्होंने कुशल नेतृत्व किया है। इन्होंने संयुक्त राष्ट्र संघ की महिला स्तर समिति में भारत का प्रतिनिधित्व भी पांच वर्षों (1984 - 89) तक किया। इन्होंने उत्तर प्रदेश में अपने 82 साथियों के साथ अगस्त 1990 में 23 दिनों की जेल यात्रा की थी, जब वे महिलाओं पर समाज के अत्याचारों के विरोध में उठ खडी हुईं, इससे भड़के हुए लाखों राज्य के नागरिक इस अभियान से जुड़े, व जेलें भरीं। 1970 में वे यंग विमन्स एसोसियेशन की अध्यक्ष भी रहीं, जिसके दौरान, इन्होंने दिल्ली में दो बड़े महिला छात्रावास खुलवाये। उत्तर प्रदेश में महिलाओं के प्रति बढ़ रही आपराधिक गतिविधियों के विरोध में शीला दीक्षित ने प्रभावकारी प्रदर्शन भी किए थे, जिसकी वजह से उन्हें अगस्त 1990 में 23 दिनों की जेल यात्रा भी करनी पड़ी। इस यात्रा में उनके साथ उनके 82 सहयोगी भी थे। उनके इस कदम का व्यापक प्रभाव पड़ा। परिणामस्वरूप उनकी गिरफ्तारी से भड़के हुए लाखों नागरिक इस अभियान से जुड़े व जेलें भरीं। वर्ष 1970 में शीला दीक्षित 'यंग विमन्स एसोसिएशन' की अध्यक्ष भी रहीं। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपनी पहचान बना चुका इंदिरा गाँधी स्मारक ट्रस्ट की सचिव भी शीला दीक्षित ही हैं। यह ट्रस्ट शांति, निशस्त्रीकरण एवं विकास के लिये इंदिरा गाँधी पुरस्कार देता है व विश्वव्यापी विषयों पर सम्मेलन आयोजित करता है। इतना ही नहीं शीला दीक्षित के संरक्षण में ही इस ट्रस्ट ने एक पर्यावरण केन्द्र भी खोला है। इसके अलावा शीला दीक्षित, हस्तकला व ग्रामीण कलाकारों व कारीगरों के उत्थान में विशेष रुचि लेती हैं। ग्रामीण रंगशाला व नाट्यशालाओं का विकास, इनका विशेष कार्य रहा है। 1978 से 1984 के बीच गार्मेंट्स एक्सपोर्टर्स एसोसिएशन के कार्यपालक सचिव पद पर इन्होंने तैयार कपड़ा निर्यात को एक ऊंचे स्तर पर पहुंचाया।[2]

दिल्ली विधानसभा चुनाव 2013

2013 के दिल्ली विधानसभा चुनावों में अरविंद केजरीवाल ने नई दिल्ली सीट से चुनाव लड़ा जहां उनकी सीधी टक्कर लगातार 15 साल से शीला दीक्षित से थी। उन्होंने नई दिल्ली विधानसभा सीट से तीन बार की मुख्यमंत्री शीला दीक्षित को 22 हज़ार मतों से हराया। नौकरशाह से सामाजिक कार्यकर्ता और सामाजिक कार्यकर्ता से राजनीतिज्ञ बने अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी ने दिल्ली की राजनीति में धमाकेदार प्रवेश किया। आम आदमी पार्टी ने 70 सदस्यीय दिल्ली विधानसभा चुनाव में 28 सीटें जीतकर प्रदेश की राजनीति में खलबली मचा दी। इस चुनाव में आम आदमी पार्टी भारतीय जनता पार्टी के बाद दूसरी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी। सत्तारूढ़ काँग्रेस पार्टी सिर्फ़ 10 सीटें लेकर तीसरे स्थान पर खिसक गयी।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. शीला दीक्षित (हिंदी) अपने विचार (ब्लॉग)। अभिगमन तिथि: 6 दिसम्बर, 2012।
  2. मुख्यमंत्री शीला दीक्षित (हिंदी) जागरण जंक्शन। अभिगमन तिथि: 6 दिसम्बर, 2012।

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=शीला_दीक्षित&oldid=530338" से लिया गया