शैलेन्द्र वंश  

Disamb2.jpg शैलेन्द्र एक बहुविकल्पी शब्द है अन्य अर्थों के लिए देखें:- शैलेन्द्र (बहुविकल्पी)

शैलेन्द्र वंश का आरम्भ दक्षिण-पूर्व एशिया में आठवीं शताब्दी में हुआ था।

  • इस वंश के शासक तेरहवीं शताब्दी तक एशिया और वहाँ के अन्य क्षेत्रों पर राज्य करते रहे।
  • इस वंश के शासक जो भारतीय थे, उन्होंने न केवल समस्त मलय प्रायद्वीप पर, वरन् सुमात्रा, जावा, बाली और बोर्निया सहित समस्त मलय द्वीपसमूह पर राज्य किया था।
  • अरब यात्रियों ने उनकी शक्ति, सम्पत्ति और ऐश्वर्य का वर्णन करते हुए लिखा है कि, उन्हें महाराज पुकारा जाता था।
  • शैलेन्द्र शासक बौद्ध धर्म के महायान सम्प्रदाय के अनुयायी थे।
  • उनके द्वारा निर्मित स्तूपों और बिहारों में जावा में स्थित बोरोबुदुरा का महाचैत्य विशेष उल्लेखनीय है।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=शैलेन्द्र_वंश&oldid=611780" से लिया गया