शोजा हिमाचल प्रदेश  

शोजा हिमाचल प्रदेश
शोजा, हिमाचल प्रदेश
विवरण 'शोजा' बहुत ही ख़ूबसूरत और प्राकृतिक दृश्यों से भरपूर पहाड़ी स्थान है, जो हिमाचल प्रदेश की 'सेराज घाटी' में स्थित है।
राज्य हिमाचल प्रदेश
भौगोलिक स्थिति समुद्र तल से लगभग 2,368 मीटर की ऊँचाई पर।
प्रसिद्धि पहाड़ी पर्यटन स्थल
हवाई अड्डा भुंतर
रेलवे स्टेशन जोगिन्दर नगर
बस अड्डा कुल्लू
क्या देखें 'वॉटरफॉल पॉइंट', 'सेरोलसर झील', 'जालोरी पास', 'नागिन का मन्दिर' आदि।
Map-icon.gif शिमला, कुल्लू, हिमाचल प्रदेश
विशेष यहाँ बूढ़ी नागिन का मन्दिर है, जिसे शोजा की संरक्षक देवी माना जाता है।
अन्य जानकारी शोजा से बर्फ से ढकी हिमालय की श्रेणियों का मनोरम दृश्य देखा जा सकता है।

शोजा एक बहुत ही ख़ूबसूरत और प्राकृतिक दृश्यों से भरपूर पहाड़ी स्थान है। यह हिमाचल प्रदेश की सेराज घाटी में स्थित है। शोजा से हिमालय की बर्फ से ढकी चोटियाँ बड़ी ही सुन्दर दिखाई देती हैं। इस स्थान की जलवायु वर्ष भर सामान्य रहती है और गर्मी का मौसम इस स्थान की सैर के लिये उपयुक्त है। यूँ तो शोजा में कई दर्शनीय स्थल हैं, लेकिन यहाँ का 'वॉटरफॉल पॉइंट' एक ऐसा स्थान है, जिसे अवश्य देखना चाहिए। प्रकृति की गोद में स्थित यह वॉटरफॉल पॉइंट बहुत सुंदर है।

स्थिति

हिमाचल प्रदेश का यह ख़ूबसूरत स्थान प्राकृतिक दृश्यों से भरपूर है, जो सैलानियों को आकर्षित करने की पूरी क्षमता रखते है। जालोरी पास से लगभग पाँच किलोमीटर की दूरी पर स्थित शोजा समुद्र की सतह से लगभग 2,368 मीटर की ऊँचाई पर स्थित है। यहाँ से बर्फ से ढकी हिमालय की श्रेणियों का मनोरम दृश्य देखा जा सकता है।[1]

पर्यटन स्थल

शोजा के प्रमुख पर्यटन स्थल हैं-

  1. सेरोलसर झील
  2. रघुपुर क़िला
  3. वॉटरफॉल पॉइंट
  4. जालोरी पास
  5. तीर्थान घाटी

जालोरी पास, जो इसके धातु के शक्तिशाली रास्ते के लिये जाना जाता है, शोजा को शिमला और पास के अन्य स्थानों से जोड़ता है। यहाँ का एक अन्य लोकप्रिय स्थान 'जालोरी पास' से लगभग पाँच किलोमीटर की दूरी पर स्थित 'सेरोलसर झील' है।

नागिन का मंदिर

इस क्षेत्र में देवी बूढ़ी नागिन को समर्पित एक मंदिर भी है। ऐसा माना जाता है कि इस स्थान की संरक्षक और अभिभावक के रूप में जानी जाने वाली इस देवी के सौ पुत्र थे। शोजा का 'वॉटरफॉल पॉइंट' एक ऐसा स्थान है, जिसे अवश्य देखना चाहिए। प्रकृति की गोद में स्थित यह वॉटरफॉल पॉइंट बहुत सुंदर है। यह शोजा से लगभग एक किलोमीटर की दूरी पर स्थित है और सुबह की सैर करने के लिये लोग यहाँ आते हैं। इस झरने का पानी ठंडा और मीठा है।[1]

कैसे पहुँचें

पर्यटक वायुमार्ग, रेलमार्ग और सड़कमार्ग द्वारा शोजा तक आसानी से पहुँच सकते हैं। शोजा का निकटतम हवाई अड्डा 'भुंतर हवाई अड्डा' है, जिसे कुल्लू-मनाली हवाई अड्डे के नाम से भी जाना जाता है। गंतव्य से 80 किलोमीटर दूर स्थित यह हवाई अड्डा भारत के नई दिल्ली, शिमला और अन्य शहरों से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। शोजा का निकटतम रेलवे स्टेशन 'जोगिन्दर नगर रेलवे स्टेशन' है, जो 164 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। कुल्लू से शोजा के लिये नियमित बसें भी उपलब्ध हैं।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. 1.0 1.1 शोजा- आराम और आलस (हिन्दी)। । अभिगमन तिथि: 17 जून, 2013।

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=शोजा_हिमाचल_प्रदेश&oldid=371070" से लिया गया