श्राद्ध व्रत  

  • भारत में धार्मिक व्रतों का सर्वव्यापी प्रचार रहा है। यह हिन्दू धर्म ग्रंथों में उल्लिखित हिन्दू धर्म का एक व्रत संस्कार है।
  • केशव प्रतिमा के समक्ष शिव प्रतिमा पर चन्दन लेप लगाना तथा जलधेनु एवं घृतधेनु का दान दिया जाता है।
  • सभी पापों से मुक्ति एवं शिव लोक की प्राप्ति होती है।
  • इस व्रत में भगवान शिव की पूजा की जाती है।[1]


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

अन्य संबंधित लिंक

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. हेमाद्रि (व्रतखण्ड 2, 833, पद्म पुराण से उद्धरण)।
"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=श्राद्ध_व्रत&oldid=286130" से लिया गया