सप्तमी व्रत  

  • भारत में धार्मिक व्रतों का सर्वव्यापी प्रचार रहा है। यह हिन्दू धर्म ग्रंथों में उल्लिखित हिन्दू धर्म का एक व्रत संस्कार है।
  • मत्स्य पुराण[1], पद्म पुराण[2], भविष्योत्तरपुराण[3], नारद पुराण[4], कृत्यकल्पतरु[5], हेमाद्रि[6], वर्षक्रियाकौमुदी[7], तिथितत्व[8], व्रतरत्नाकर[9] में सप्तमीव्रत का उल्लेख है।
  • विष्णुधर्मोत्तरपुराण में सप्तमी पूजा की प्रशंसा है।[10]


अन्य संबंधित लिंक

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. मत्स्यपुराण (अध्याय 74-80);
  2. पद्मपुराण (5|21|215-321);
  3. भविष्योत्तरपुराण (43-53);
  4. नारदपुराण (1|116|1-71);
  5. कृत्यकल्पतरु (व्रतखण्ड 103-225, कुल 44 व्रत);
  6. हेमाद्रि (व्रतखण्ड 1, 632-810, 62 व्रत);
  7. वर्षक्रियाकौमुदी (35-38);
  8. तिथितत्त्व (36-40);
  9. व्रतरत्नाकर (231-255
  10. विष्णुधर्मोत्तरपुराण (3|169|1-7)।
"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=सप्तमी_व्रत&oldid=189423" से लिया गया