सरोद  

सरोद

सरोद एक वाद्य यंत्र है। सरोद पोली लकड़ी का बना तत वाद्य है, जो अपेक्षाकृत उथला होता है।

  • सरोद का निचला सिरा गोलाकार होता है।
  • ऊपर की ओर दंड की चौड़ाई कम होती जाती है। दंड पर धातु की पत्ती चढ़ी होती है।
  • सरोद पर चार मुख्य तंत्रियाँ, चार सहायक तंत्रियाँ तथा लगभग एक दर्जन तरब की तंत्रियाँ लगी होती हैं।
  • सरोद की सभी तंत्रियाँ धातु की बनी होती हैं।
  • सरोद में ताँत और लोहे के तार लगे रहते हैं और इसके आगे का हिस्सा चमड़े से मढ़ा रहता है।
  • सरोद को लकड़ी के छोटे टुकड़े जीवा से बजाते हैं।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=सरोद&oldid=248628" से लिया गया