साहित्य अकादमी पुरस्कार संस्कृत  

साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित किये गये संस्कृत भाषा के साहित्यकारों की सूची इस प्रकार है-
वर्ष रचना साहित्यकार
2013 चलदूरवाणी (कविता-संग्रह) राधाकान्‍त ठाकुर
2012 लद्युपद्यप्रबन्धत्रयी (खंडकाव्य) रामजी ठाकुर
2011 भारतायनम् (महाकाव्य) हरेकृष्ण शतपथी
2010 भार्गवीयम् (महाकाव्य) मिथिला प्रसाद त्रिपाठी
2009 अनभीप्सितम् (कहानी–संग्रह) प्रशस्यमित्र शास्त्री
2008 रसप्रिया–विभावनम् (काव्य) ओमप्रकाश पाण्डेय
2007 लसल्लतिका (कविता–संग्रह) हरिदत्त शर्मा
2006 तव स्पर्शे स्पर्शे (कविता–संग्रह) हर्षदेव माधव
2005 श्रीभार्गवराघवीयम् (महाकाव्य) स्वामी रामभद्राचार्य
2004 आख्यानवल्लरी (कथा–संग्रह) देवर्षि कलानाथ शास्त्री
2003 निर्झरिणी (कविता) भास्कराचार्य त्रिपाठी
2002 हर्षचरित–मंजरी (कविता–संग्रह) काशीनाथ मिश्र
2001 को वै रस: (निबंध–संग्रह) पी. श्रीरामचंद्रुडु
2000 श्रीचंद्रशेखरेन्द्रसरस्वतीविजयम् (महाकाव्य) एस. श्रीनिवास शर्मा
1999 तदेव गगनं सैवधरा(कविता–संग्रह) श्रीनिवास रथ
1998 प्रतानिनी (कविता–संकलन) बच्चूलाल अवस्थी
1997 त्रिवेणी (कविता–संग्रह) श्यामदेव पाराशर
1996 ईशा (कविता–संकलन) केशवचंद्र दाश
1995 श्रीराधापंचशती (काव्य) रसिक बिहारी जोशी
1994 संधानम् (कविता–संग्रह) राधावल्लभ त्रिपाठी
1993 जयंतिका (गद्य–गल्प) जग्गु वकुलभूषण
1992 भीष्मचरितम् (महाकाव्य) हरिनारायण दीक्षित
1991 स्वातंत्र्यसंभवम् (महाकाव्य) रेवाप्रसाद द्विवेदी
1990 श्रीमत्प्रतापराणायनं महाकाव्यम् (बृहत् काव्य) आगेटि परीक्षित शर्मा
1989 संध्या (कविता–संकलन) रामकरण मिश्र
1988 इक्षुगंधा (कहानी–संग्रह) राजेन्द्र मिश्र
1987 अविनाशि (उपन्यास) विश्वनारायण शास्त्री
1986 श्री राधाचरित महाकाव्यम् (महाकाव्य) कालिकाप्रसाद शुक्ल
1985 विन्ध्यवासिनी विजयमहाकाव्यम् (महाकाव्य) वसंत त्र्यंबक शेवड़े
1984 सिन्धु कन्या (ऐतिहासिक उपन्यास) श्रीनाथ एस. हसूरकर
1983 श्री शंबुलिंगेश्वर विजयचंपू (जीवनी) पंढरीनाथाचार्य गलगली
1982 विश्वभानु (महाकाव्य) पी. के. नारायण पिळ्ळै
1981 कापिशायनी (कविता–संग्रह) जगन्नाथ पाठक
1980 खिस्तुभागवतम् (महाकाव्य) पी.सी. देवसिया
1979 केरलोदय: (महाकाव्य) के. एन. एषुत्तचन
1977 बुद्धविजय काव्यम् (कविता–संग्रह) शांतिभिक्षु शास्त्री
1974 श्रीशिवपराज्योदयम् (महाकाव्य) एस. वी. वर्णेकर
1973 श्रीतिलकयशोर्णव: (महाकाव्य) एम. एस. अणे (मरणोपरांत)
1970 शब्दतरंगिणी (शब्दार्थ गवेषणा) वी. सुब्रह्मण्य शास्त्री
1968 श्री गुरुगोविन्दसिंहचरितम् (काव्य) सत्यव्रत शास्त्री
1967 चित्रकाव्य कौतुकम् (काव्य) रामरूप पाठक
1966 भोज’ज श्रृंगार प्रकाश (सौन्दर्यशास्त्र) वे. राघवन
1964 तांत्रिक वाङ्मय में शाक्त दृष्टि (शोध) महामहोपाध्याय गोपीनाथ कविराज
1963 ए हिस्ट्री ऑफ़ द्वैत स्कूल ऑफ़ वेदांत एंड इट्स लिटरेचर (शोध) बी.एन. कृष्णमूर्ति शर्मा
1961 वैदिक विज्ञान और भारतीय संस्कृति (शोध) गिरधर शर्मा चतुर्वेदी
1956 हिस्ट्री ऑफ़ धर्मशास्त्र, खंड IV (शोध) महामहोपाध्याय पाण्डुरंग वामन काणे
  • वर्ष 1955, 1957, 1958, 1959, 1960, 1962, 1965, 1969, 1971, 1972, 1975, 1976, 1978 और 2014 में कोई पुरस्कार नहीं दिया गया।


टीका-टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=साहित्य_अकादमी_पुरस्कार_संस्कृत&oldid=514981" से लिया गया