हरा रंग  

  • रंगो का हमारे जीवन में बहुत महत्त्व है। रंगो से हमें विभिन्न स्थितियों का पता चलता है। हम अपने चारों तरफ अनेक प्रकार के रंगो से प्रभावित होते हैं। रंग, मानवी आँखों के वर्णक्रम से मिलने पर छाया सम्बंधी गतिविधियों से उत्पन्न होते हैं।
  • हरा एक प्राथमिक रंग है। इसकी आवृति 5.19 - 6.01 तथा तरंगदैर्ध्य विस्तार 5000 Å से 5780 Å[1] है।
  • हरा रंग VIBGYOR का चौथा रंग है।
रंग आवृति विस्तार तरंगदैर्ध्य विस्तार
हरा 5.19 - 6.01 5000 Å से 5780 Å

तिरंगे में हरे रंग का महत्त्व

तिरंगा

राष्ट्रीय ध्वज तिरंगे में हरा रंग को मान्यता दी गयी है। हरा रंग प्रकृति से संबंध और संपन्नता दर्शाता है ।

रसायन

हरे रंग में ऑक्सीजन, एल्यूमीनियम, क्रोमियम, सोडियम, कैल्शियम, निकिल आदि गैसें उपस्थित होती हैं।



पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध


टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. Å=10-10 m = 10-8 cm = 10-1nm (nanometre

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=हरा_रंग&oldid=188284" से लिया गया