Makhanchor.jpg भारतकोश की ओर से आप सभी को कृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएँ Makhanchor.jpg

गवरी देवी  

गवरी देवी
गवरी देवी
पूरा नाम गवरी देवी
जन्म 14 अप्रैल, 1920
मृत्यु 29 जून, 1988
अभिभावक बंशीलाल पवार तथा जमुना देवी पवार
पति/पत्नी मोहन लाल गामेटी
कर्म भूमि भारत
कर्म-क्षेत्र लोक गायिकी
प्रसिद्धि मरु कोकिला
नागरिकता भारतीय
अन्य जानकारी भारत द्वारा मास्को में आयोजित इण्डियन फेस्टिवल में गवरी देवी ने विशेष प्रस्तुति दी थी।

गवरी देवी (अंग्रेज़ी: Gavri Devi ; जन्म- 14 अप्रैल, 1920; मृत्यु- 29 जून, 1988) राजस्थान की प्रसिद्ध लोक गायिका थीं। उन्होंने राष्ट्रीय तथा अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मांड गायकी का जादू बिखेरा। अपनी खनकदार गायकी से गवरी देवी ने देश-दुनिया में अपनी पहचान बनाई थी। गवरी देवी को 'मरु कोकिला' के नाम से प्रसिद्धि प्राप्त है।

  • गवरी देवी के पिता का नाम बंशीलाल पवार तथा माता का नाम जमुना देवी पवार था।
  • बंशीलाल जी तथा जमुना देवी दोनों ही बीकानेर के शाही परिवार में राजदरबारी गायक के रूप में गायन करते थे।
  • 20 वर्ष की आयु में गवरी देवी का विवाह मोहन लाल गामेटी के साथ हुआ, जो जोधपुर में एक जागीरदार थे।
  • मांड गायकी के अतिरिक्त गवरी देवी ठुमरी, भजन तथा ग़ज़ल गायन भी करती थीं।
  • उन्होंने उड़ीसा, कर्नाटक, तमिलनाडु, केरल तथा महाराष्ट्र आदि राज्यों में अपनी प्रस्तुतियाँ दीं।
  • जब भारत द्वारा मास्को (रूस) में 'इण्डियन फ़ेस्टिवल' आयोजित किया गया, तब गवरी देवी ने वहाँ विशेष प्रस्तुति दी थी।
  • उनकी गायकी के लिए 'राजा पदक', 'राजस्थान संगीत नाटक अकादमी' द्वारा प्रमाणपत्र तथा पूर्व राष्ट्रपति आर. वेंकटरमन द्वारा काँस्य पदक दिया गया था।[1]
  • वर्ष 2013 में गवरी देवी को 'राजस्थान रत्न पुरस्कार' भी प्रदान किया गया।[2]


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. Lt.Smt.Gavari Devi (हिन्दी) गवरीदेवी ब्लॉगस्पॉट। अभिगमन तिथि: 09 मार्च, 2015।
  2. Gavri Devi gets Rajasthan Ratna Award 2013 (हिन्दी) राजस्थानजी.के. नेट। अभिगमन तिथि: 09 मार्च, 2015।

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=गवरी_देवी&oldid=631875" से लिया गया