दक्कन चित्रकला  

व्यवस्थापन (वार्ता | योगदान) द्वारा परिवर्तित 19:32, 30 जून 2017 का अवतरण (Text replacement - " महान " to " महान् ")

(अंतर) ← पुराना अवतरण | वर्तमान अवतरण (अंतर) | नया अवतरण → (अंतर)

  • दक्कन चित्रकला शैली का प्रधान केन्द्र बीजापुर था परंतु इसका विस्तार गोलकुण्डा एवं अहमदनगर राज्यों में भी था।
  • 'रागमाला' के चित्रों का चित्रांकन दक्कन चित्रकला शैली में विशेष रूप से किया गया है।
  • दक्कन चित्रकला शैली के महान् संरक्षकों में बीजापुर के अलीआदिल शाह तथा उसके उत्तराधिकारी इब्राहिम शाह थे।
  • दक्कन चित्रकला शैली के प्रारम्भिक चित्रों पर फ़ारसी चित्रकला का स्पष्ट प्रभाव परिलक्षित होता है।
  • दक्कन चित्रकला शैली की वेषभूषा पर उत्तर भारतीय (विशेष रूप से मालवा) शैली का प्रभाव पड़ा है।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=दक्कन_चित्रकला&oldid=597795" से लिया गया