बुकेफेला  

व्यवस्थापन (वार्ता | योगदान) द्वारा परिवर्तित 13:10, 23 जून 2017 का अवतरण (Text replacement - "पश्चात " to "पश्चात् ")

(अंतर) ← पुराना अवतरण | वर्तमान अवतरण (अंतर) | नया अवतरण → (अंतर)

बुकेफेला नाम के नगर की स्थापना यवन राजा 'अलक्षेंद्र' (सिकन्दर) ने की थी। यह नगर 326 ई. पू. में झेलम नदी के किनारे बसाया गया था।[1]

  • बुकेफेला, अलक्षेंद्र के प्रिय घोड़े का नाम था और भारत के वीर राजा पुरु या पोरस के साथ युद्ध के पश्चात् इस घोड़े की मृत्यु इसी स्थान पर हुई थी।
  • घोड़े की स्मृति में ही इस नगर का नाम बुकेफेला रखा गया था।
  • इतिहासकार विंसेंट स्मिथ के अनुसार यह वर्तमान झेलम नाम के नगर (पश्चिमी पाकिस्तान) के स्थान पर बसा हुआ था।
  • बुकेफेला के चिन्ह नगर के पश्चिम की ओर एक विस्तृत टीले के रूप में आज भी देखे जा सकेते हैं।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. ऐतिहासिक स्थानावली |लेखक: विजयेन्द्र कुमार माथुर |प्रकाशक: राजस्थान हिन्दी ग्रंथ अकादमी, जयपुर |पृष्ठ संख्या: 640 |

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=बुकेफेला&oldid=595304" से लिया गया