सुरक्षित इंटरनेट दिवस  

गोविन्द राम (वार्ता | योगदान) द्वारा परिवर्तित 17:26, 6 फ़रवरी 2018 का अवतरण

(अंतर) ← पुराना अवतरण | वर्तमान अवतरण (अंतर) | नया अवतरण → (अंतर)

सुरक्षित इंटरनेट दिवस
सुरक्षित इंटरनेट दिवस
विवरण सुरक्षित इंटरनेट दिवस के मौके पर रेडियो के माध्यम से लोगों को एटीएम व डेबिट कार्ड से जुड़ी ऑनलाइन ठगी से बचने के बारे में जागरूक किया जाता है
तिथि फ़रवरी महीने के दूसरे हफ्ते के दूसरे दिन मनाया जाता है।
उद्देश्य लोगों को विशेष रूप से बच्चों और युवा लोगों को ऑनलाइन और मोबाइल फ़ोन के सुरक्षित व अधिक जिम्मेदार उपयोग के लिए प्रोत्साहित करना।
अन्य जानकारी तकनीकी क्षेत्र की दिग्गज कंपनी गूगल का कहना है कि वह स्कूली पाठ्यक्रमों में इंटरनेट सुरक्षा को शामिल कराने के लिए चार-पांच राज्यों के साथ बातचीत कर रही है।
अद्यतन‎

सुरक्षित इंटरनेट दिवस (अंग्रेज़ी:Safer Internet Day) फ़रवरी के दूसरे हफ्ते के दूसरे दिन मनाया जाता है। वर्ष 2018 में यह दिवस 6 फ़रवरी को मनाया गया। अंतर्राष्ट्रीय सुरक्षित इंटरनेट दिवस मनाने के पीछे प्रमुख मकसद लोगों को विशेष रूप से बच्चों और युवा लोगों को ऑनलाइन और मोबाइल फ़ोन के सुरक्षित व अधिक जिम्मेदार उपयोग के लिए प्रोत्साहित करना है। अंतर्राष्ट्रीय सुरक्षित इंटरनेट दिवस के मौके पर रेडियो के माध्यम से लोगों को एटीएम व डेबिट कार्ड से जुड़ी ऑनलाइन ठगी से बचने के बारे में जागरूक किया जाता है। इस दिन पोस्टर व पंपलेट के जरिये भी लोगों को जागरूक किया जाता है। साइबर क्राइम सेल द्वारा इस दिन विशेष कार्यक्रम आयोजित कर बच्चों और युवा लोगों को इंटरनेट पर काम करने के दौरान बरती जाने वाली सावधानियों के बारे में बताया जाता है।[1]

उद्देश्य

यूनाइटेड किंगडम के स्कूलों में सुरक्षित इंटरनेट एजुकेशन पैक्स और सुरक्षित इंटरनेट दिवस की एक टीवी फिल्म दिखाई जाती है ताकि उन्हें इसका महत्व पता चल सके। गूगल की डायरेक्टर सुनीता मोहंती के अनुसार हम अपने यूजर को एक सुरक्षित इंटरनेट अनुभव की पेशकश करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। उनका कहना है कि हम हर महीने कम से कम 5 मिलियन यूजर को अपने साथ जोड़ रहे हैं। यह आँकड़ा भारत से 500 मिलियन होने की उम्मीद 2018-2019 तक है। मोहंती ने यह भी कहा की यह हमारी ज़िम्मेदारी है कि हम अपने हर एक यूजर को उनके अकाउंट में उपलब्ध डाटा और प्रोफाइल को सुरक्षित रखें।[2]

स्कूली पाठ्यक्रम में इंटरनेट सुरक्षा

तकनीकी क्षेत्र की दिग्गज कंपनी गूगल का कहना है कि वह स्कूली पाठ्यक्रमों में इंटरनेट सुरक्षा को शामिल कराने के लिए चार-पांच राज्यों के साथ बातचीत कर रही है। अमेरिकी कंपनी गोवा सरकार के साथ मिलकर छात्रों को इंटरनेट पर सुरक्षित रहने के लिए शिक्षित भी कर रही है। गूगल इंडिया की निदेशक (विश्वास एवं सुरक्षा) सुनीता मोहंती ने कहा, ‘‘हम पाठ्यक्रम में इंटरनेट सुरक्षा को शामिल कराने की कोशिश कर रहे हैं। हम कई राज्य सरकारों और केंद्रीय बोडरें के साथ काम करने का प्रयास कर रहे हैं ताकि इसे रोजमर्रा की बातचीत का हिस्सा बनाया जाना सुनिश्चित किया जा सके। अभी चार-पांच राज्यों के साथ बातचीत चल रही है।’’ हालांकि उन्होंने राज्यों के नाम नहीं बताए। गोवा में 460 शिक्षकों को प्रशिक्षित किया गया है जो करीब 80,000 छात्रों तक ये जानकारी पहुंचाएंगे। छात्रों के अलावा गूगल इस संबंध में महिलाओं और ग्राहकों को भी शिक्षित करने के लिए काम कर रहा है।[3]


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. ANTARRASHTRIYA SURAKSHIT INTERNET DIWAS in Hindi (हिंदी) हिन्दी 2 नोट्स। अभिगमन तिथि: 6 फ़रवरी, 2018।
  2. Safer Internet Day: आज google ने यूजर को दिया बड़ा तोहफा (हिंदी) इंडिया डॉट कॉम। अभिगमन तिथि: 6 फ़रवरी, 2018।
  3. इंटरनेट सुरक्षा को स्कूली पाठ्यक्रम में शामिल किया जाए : गूगल (हिंदी) BGR। अभिगमन तिथि: 6 फ़रवरी, 2018।

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=सुरक्षित_इंटरनेट_दिवस&oldid=619303" से लिया गया