अनूरु  

Disamb2.jpg अनूरु एक बहुविकल्पी शब्द है अन्य अर्थों के लिए देखें:- अनूरु (बहुविकल्पी)


शब्द संदर्भ
हिन्दी जिसकी जंघा न हो, बिना जाँघों वाला, जंघारहित, जिसकी जंघाएँ बेकार हों या बेकार कर दी गयी हों, अरुणोदय, उषा-काल, भोर, तड़का।
-व्याकरण    विशेषण, पुल्लिंग
-उदाहरण   सूर्य का सारथि अरुण अनूरु है।
-विशेष   
-विलोम   
-पर्यायवाची    अजंघ, आदित्य, केतु, काश्यप, महा सारथी, रवि सारथी, विनता सुत, सूर्य सारथी।
संस्कृत अन्+ऊरु
अन्य ग्रंथ
संबंधित शब्द
संबंधित लेख

अन्य शब्दों के अर्थ के लिए देखें शब्द संदर्भ कोश

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=अनूरु&oldid=304194" से लिया गया