आंद्रेएव लियोनिद निकोलएविच  

आंद्रेएव लियोनिद निकोलएविच (1871-1919) रूस के सुप्रसिद्ध नाट्यकार एवं उपन्यासलेखक जिनका रूसी कथा साहित्य में एक विशिष्ट स्थान है। आई.डब्ल्यू. श्क्लोवस्की ने उनकी तुलना गोगोल से की है। उनकी सर्वप्रिय रचनाएँ 'दि रेड लाफ' (1904), 'दि लाइफ ऑव मैन' (1906), जो एक रूपक अथवा प्रतीक नाटक है, 'दि सेवेन दैट वेयर हैंग्ड' (1908) तथा 'ही हू गेट्स स्लैप्ड हैं, जिनमें से अंतिम का शीर्षक जितना ही रोचक है उतना ही तत्कालीन सामाजिक जीवन के चित्रांकन में कटु है।[1]



पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. हिन्दी विश्वकोश, खण्ड 1 |प्रकाशक: नागरी प्रचारिणी सभा, वाराणसी |संकलन: भारत डिस्कवरी पुस्तकालय |पृष्ठ संख्या: 330 |

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=आंद्रेएव_लियोनिद_निकोलएविच&oldid=630342" से लिया गया