और्व  

Disamb2.jpg और्व एक बहुविकल्पी शब्द है अन्य अर्थों के लिए देखें:- और्व (बहुविकल्पी)
शब्द संदर्भ
हिन्दी भूमि से उत्पन्न, भूमि से सम्बन्धित, भूमि का, बाड़वाग्नि, बड़वानल, एक भृगुवंशी ऋषि, पुराणों के अनुसार वह दक्षिणी भाग जिसमें सब नरक है और जहाँ दैत्यों का निवास है।
-व्याकरण    विशेषण, पुल्लिंग।
-उदाहरण  

पुष्करे दक्षिणे ध्रुवे अगस्त्य मुनि पूजिता। और्व मुनि प्रतापस्य ज्वाला द्वेयै नमो नम:॥

-विशेष   
-विलोम   
-पर्यायवाची   
संस्कृत उर्वी+ अण्
अन्य ग्रंथ
संबंधित शब्द और्वशेय
संबंधित लेख

अन्य शब्दों के अर्थ के लिए देखें शब्द संदर्भ कोश

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=और्व&oldid=550217" से लिया गया