चोखा  

शब्द संदर्भ
हिन्दी उत्तम या विलक्षण, तीखा, जिसमें किसी प्रकार का खोट या मिलावट न हो, एक प्रकार का चटपटा व्यंजन या सालन जो आलू या बैगन को उबाल या भूनकर बनाया जाता है, पकाया हुआ चावल, रंग जो अच्छा और गहरा चढ़ा हुआ हो।
-व्याकरण    विशेषण
-उदाहरण   चला बिमान तहाँ तें चोखा तुलसी[1]
-विशेष   
-विलोम    फोक
-पर्यायवाची    भुरता, रगड़ा, कचूमर।
संस्कृत चोक्ष
अन्य ग्रंथ
संबंधित शब्द
संबंधित लेख

अन्य शब्दों के अर्थ के लिए देखें शब्द संदर्भ कोश

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. मानस.6/120/2

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=चोखा&oldid=139652" से लिया गया