एक्स्प्रेशन त्रुटि: अनपेक्षित उद्गार चिन्ह "२"।

ज़ायद की फ़सल

भारत डिस्कवरी प्रस्तुति
यहाँ जाएँ:भ्रमण, खोजें

ज़ायद की फ़सल सामान्यत: उत्तर भारत में मार्च-अप्रैल में बोई जाती है। इस वर्ग की फसलों में तेज गर्मी और शुष्क हवाएँ सहन करने की अच्छी क्षमता होती हैं। उदाहरण के तौर पर तरबूज़, खीरा, ककड़ी आदि की फ़सलें ज़ायद की फ़सल मानी जाती हैं।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख