धात्री विद्या  

शब्द संदर्भ
हिन्दी धाय / दाई के काम की विद्या, वह विद्या जिसमें इस बात का विवेचन होता है कि गर्भवती स्त्रियों को किस प्रकार प्रसव कराना चाहिए और प्रसूता तथा शिशु की किस प्रकार देख-रेख करनी चाहिए।
-व्याकरण    स्त्रीलिंग।
-उदाहरण  
-विशेष   
-विलोम   
-पर्यायवाची   
संस्कृत
अन्य ग्रंथ
संबंधित शब्द धात्री, धात्री नवमी, धात्रीफल
संबंधित लेख

अन्य शब्दों के अर्थ के लिए देखें शब्द संदर्भ कोश

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=धात्री_विद्या&oldid=133244" से लिया गया