बाँसुरी वादक  

बाँसुरी वादक भारतीय वाद्यों में से एक बाँसुरी बजाने वाले को कहा जाता है। बाँसुरी और भगवान श्रीकृष्ण एक-दूसरे के पर्याय रहे हैं। सम्पूर्ण विश्व में आज कई प्रकार की बाँसुरियों का प्रयोग किया जाता है।

  • बाँसुरी वादक पंडित पन्नालाल घोष ने अपने अथक परिश्रम से बाँसुरी वाद्य में अनेक परिवर्तन करके बाँसुरी को भारतीय संगीत में सम्माननीय स्थान दिलाया है।
  • हरिप्रसाद चौरसिया बाँसुरी वादक के रूप में काफ़ी ख्याति अर्जित कर चुके हैं।
  • आधुनिक काल में गायन, वादन तथा नृत्य की संगति में बाँसुरी का प्रयोग भी किया जाने लगा है।
  • भारत के प्रसिद्ध बाँसुरी वादकों के नाम निम्नलिखित हैं-
  1. सुमंत राज
  2. हरिप्रसाद चौरसिया


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=बाँसुरी_वादक&oldid=298348" से लिया गया