एक्स्प्रेशन त्रुटि: अनपेक्षित उद्गार चिन्ह "०"।

बालाजी ताम्बे

भारत डिस्कवरी प्रस्तुति
यहाँ जाएँ:भ्रमण, खोजें
डॉ. बालाजी ताम्बे

डॉ. बालाजी ताम्बे (अंग्रेज़ी: Dr. Balaji Tambe, जन्म- ?; मृत्यु- 10 अगस्त, 2021) भारत के प्रसिद्ध आयुर्वेदाचार्य तथा आध्यात्मिक गुरु थे। आयुर्वेद को विश्व स्तर पर, खासकर युवाओं के बीच लोकप्रिय बनाने के अनेक प्रयासों के लिए उन्हें याद किया जाता है। वह आयुर्वेद चिकित्सक और योग के समर्थक थे। आयुर्वेद में बालाजी तांबे ने काफी काम किया।

  • गर्भावस्था पर लिखी बालाजी ताम्बे की पुस्तकों की बहुत मांग थी। उन्होंने स्वास्थ्य के मुद्दों पर दशकों तक काम किया।
  • उनके आयुर्वेद उपचार की न केवल राज्य में बल्कि देश और विदेश में चर्चा होती थी।
  • बालाजी ताम्बे की मराठी में लिखी 'गर्भ संस्कार' नामक पुस्तक की कई लाख प्रतियाँ बिकी थीं। पुस्तक का अंग्रेज़ी सहित छ: भाषाओं में अनुवाद हुआ था।
  • लोनावाला के पास एक समग्र चिकित्सा केंद्र 'आत्मसंतुलना गांव' के संस्थापक बालाजी ताम्बे ने आध्यात्मिकता, योग और आयुर्वेद पर कई किताबें लिखी थीं। उन्होंने आयुर्वेद और योग को बढ़ावा देने और लोकप्रिय बनाने के लिए अपना पूरा जीवन समर्पित कर दिया।
  • परिवार के सदस्यों के अनुसार आयुर्वेद चिकित्सक और योग प्रस्तावक डॉ. बालाजी तांबे का लंबी बीमारी के बाद पुणे के एक निजी अस्पताल में निधन हुआ। उनके परिवार में उनकी पत्नी, दो बेटे और बहुएं और चार पोतियां हैं।
  • आयुर्वेदाचार्य डॉ. बालाजी तांबे का 10 अगस्त, 2021 को निधन हो गया। उनके निधन पर पीएम नरेंद्र मोदी ने शोक जताया था। पीएम ने ट्वीट कर उनके परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की। उन्होंने लिखा- 'डॉ बालाजी तांबे को आयुर्वेद को दुनिया भर में विशेष रूप से युवाओं के बीच लोकप्रिय बनाने के उनके कई प्रयासों के लिए याद किया जाएगा। उनके दयालु स्वभाव के लिए हर ओर उनकी प्रशंसा की गई। उनके निधन से आहत हूं। उनके परिवार और प्रशंसकों के प्रति संवेदना। ओम शांति।'


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख