बिंब  

शब्द संदर्भ
हिन्दी किसी वस्तु की दर्पण, जल आदि में झलकनेवाली प्रति-आकृति, अस्त होते हुए सूर्य का मंडल या पूर्णिमा को अस्त होते हुए चन्द्र का मंडल, एक प्रकार का छन्द, किसी वस्तु का मानसिक चित्र या प्रतिमूर्ति-चाहे वह स्मृति से बने या कल्पना से, कुँदरू नामक फल साहित्य में, शब्द का लक्षणा या व्यंजना शक्ति से निकलनेवाला अर्थ।
-व्याकरण    पुल्लिंग, धातु
-उदाहरण   बिंब वह शब्‍द है जो कल्‍पना के द्वारा सन्द्रिय अनुभवों के आधार पर निर्मित होता है।
-विशेष    यह एक छोटा फल जो सब्ज़ी के रूप में भी खाया जाता है। कच्चा फल हरा होता पकने पर लाल रंग का हो होता है।
-विलोम   
-पर्यायवाची    कल्पना, झलक, बानगी, स्वरूप, छाप, भ्रम।
संस्कृत वी+वन्
अन्य ग्रंथ
संबंधित शब्द
संबंधित लेख

अन्य शब्दों के अर्थ के लिए देखें शब्द संदर्भ कोश

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=बिंब&oldid=132772" से लिया गया