बुर्ज ख़लीफ़ा  

बुर्ज ख़लीफ़ा - दुनिया की सबसे ऊंची इमारत
बुर्ज ख़लीफ़ा (पहले बुर्ज दुबई) दुबई में आठ अरब डॉलर की लागत से छह साल में निर्मित 828 मीटर (2717 फीट) ऊंची 168 मंज़िला दुनिया की सबसे ऊंची इमारत है। इसका लोकार्पण 4 जनवरी, 2010 को भव्य उद्घाटन समारोह के साथ किया गया।
बुर्ज ख़लीफ़ा

विशेषताएँ

  • इसमें स्वीमिंग पूल, मॉल्स, दफ़्तर, सिनेमा हॉल सहित सारी सुविधाएं मौजूद है।
  • इसकी 76 वीं मंज़िल पर एक मस्जिद भी बनाई गई है।
  • इसे 96 किलोमीटर दूर से भी साफ़ साफ देखा जा सकता है।
  • इसमें लगाई गई लिफ्ट दुनिया की सबसे तेज चलने वाली लिफ्ट है।
  • दुबई के शासक मुहम्मद बिन राशिद अल मखतूम ने 2717 फुट (828 मीटर) ऊंची इमारता उदघाटन किया।
  • बिन राशिद अल मखतूम ने संयुक्त अरब अमीरात के राष्ट्रपति के सम्मान में इसका नाम बुर्ज ख़लीफ़ा रखा।
  • इस भवन को बनवाया है बिल्डर एमार प्रॉपर्टीज ने। इसके चेयरमैन हैं मुहम्मज अलब्बार।
  • इमारत को बनाने में लगभग 1.5 अरब डॉलर खर्च किये गये।
  • दो सौ मंजिली इस इमारत में 163 मंजिलों पर लोग रह सकते हैं।
  • यह इमारत 56 लाख 70 हज़ार वर्गफुट में फैली है। इनमें से 18 लाख 50 हज़ार वर्गफुट में रिहायशी इलाक़ा है। 3 लाख वर्गफुट में सिर्फ़ कार्यालय बने हैं।
  • यहां विश्व का सबसे ऊंचा तरणताल, लिफ्ट, रेस्टोरेंट और फ़व्वारा भी मौजूद है।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=बुर्ज_ख़लीफ़ा&oldid=438098" से लिया गया