रुचिर  

शब्द संदर्भ
हिन्दी दीप्त, चमकीला, जो रुचि के अनुकूल हो, अच्छा, मनोहर, सुन्दर, मधुर, मीठा, प्रिय लगने वाला, रम्य।
-व्याकरण    विशेषण, स्त्रीलिंग
-उदाहरण   रुचिर पक्षी, स्वच्छन्द थीं बिचरती रुचिर स्थलों में[1]
-विशेष    संस्कृत में केसर, लौंग, मूली, को भी 'रुचिर/रुचिरा' कहा जाता है।
-विलोम   
-पर्यायवाची    लुभावना, कटीला, शुभांगी, हसीन।
संस्कृत रुच्+किरच्
अन्य ग्रंथ
संबंधित शब्द रुचिरा
संबंधित लेख

अन्य शब्दों के अर्थ के लिए देखें शब्द संदर्भ कोश

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. हरिऔध(प्रिय, 14/124

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=रुचिर&oldid=189309" से लिया गया